यहां बन रहा था आवासीय छात्रावास ….रहवासियों ने जताया विरोधी बोले पहले से ही यहां पर आंगनवाड़ी पहले से ही है हमारी वर्षो पुरानी मांग …यहां कन्या परिसर बने

640

रानापुर / गणेश पोरवाल

रानापुर नगर मे पुलिस थाना के समीप  बुनियादी  शाला परिसर मे नवीन आवासीय छात्रावास  परिसर के निर्माण  का  रविवार को नगर के रहवासियों व भाजपा नेताओ  ने निर्माण  स्थल पर पहुचकर जनहित मे  विरोध दर्ज  कर   यहा पर कन्या शाला शिक्षा परिसर बनाने की मांग   शासन व  प्रशासन  से की है ।   हाला कि विरोध के बाद  निर्माण  काम बंद हो गया। इस संबंध मे जिले के  प्रभारी मंत्री  से भी अवगत करवा कर विरोध दर्ज   करेंगे  ।
पुलिस थाने के समीप    बुनियादी  शाला परिसर  मे पहले से  स्कूल संचालित  है ओर उसी परिसर मे दो आंगनवाड़ी  भी संचालित है ।ऐसे मे वहा पर आवासीय  छात्रावास  परिसर अचानक बनाने का नगरवासियों  व भाजपा नेताओं ने  रविवार की सुबह वार्ड वासियो  के साथ भाजपा नेता  निर्माण  स्थल पर पहुचकर  जनहित मे विरोध  दर्ज कर कहा कि यहा पर तो पूर्व  से  कन्या शाला  प्रस्तावित  होकर नगर की  प्रमुख मांग  भी हे कि यहा पर आन वाले  समय मे छात्राओं की सुरक्षा  को देखते हुए । कन्या शाला बनना चाहिए । उन्होंने यह भी कहा कि हम छात्रावास निर्माण   का विरोध दर्ज  नही कर रहे , अगर छात्रावास  बनाना हो तो   वर्तमान  कन्या शाला परिसर,    जोबट नाका के समीप पुराने  छात्रावास   स्थल या फिर जनपद परिसर के समीप जमीन पर नया भवन बनाया जा सकता है।  यह नगर के मध्य  किमती जमीन  है । विरोध दर्ज  करने वालो मे पूर्व  जिलाध्यक्ष  मनोहर सेठिया  ,पिछड़ा वर्ग  जिला महामंत्री  दिनेश राठौर , मंडल अध्यक्ष  कीर्तीश  राठोर  ,पूर्व  पार्षद  श्रीपाल पंचाल ,राधाकिशन राठोर, पूर्व  मंडल अध्यक्ष  ललित बंधवार ,संचित कटारिया ,जिला उपाध्यक्ष  राजेन्द्र उपाध्याय,   मोर्चा  के जिला उपाध्यक्ष  दिलीप नलवाया  ,प्रकाश  राठोर ,योगेश पोरवाल, मंडल महामंत्री  कान्तिलाल  प्रजापत,   लाला गाहरी , कनु प्रजापत  मांगीलाल  गाहरी   के अलावा नगरवासियों  के साथ  वार्ड  वासी भी   उपस्थित थे ।
दो दिन पहले सहायक आयुक्त  आए थे
नवीन छात्रावास   निर्माण  स्थल पर दो दिन पहले सहायक आयुक्त  रानापुर  आए थे उसी समय  नगवासियो व वार्ड  वासियो ने  इस निर्माण  का विरोध दर्ज  किया था । उसके बाद भी विरोध को नजर अंदाज कर   निर्माण  कार्य  चालु कर दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here