विधायक के आरोपों के बाद जगा प्रशासन – किसानों के लिए उपलब्ध करवा रहा है खाद

178

थांदला

  किसानों की समस्याओं के लिए लड़ने वालें दबंग विधायक वीरसिंह भूरिया के आरोपों से प्रशासन की नींद उड़ गई है। जिला कलेक्टर ने जिलें में खाद आपूर्ति की जानकारी लेते हुए सहकारी संस्थाओं व विपणन सहकारी संस्थाओं में खाद पहुँचना शुरू कर दिया है। थांदला विपणन सहकारी संस्था में भी एक सप्ताह बाद यूरिया खाद से भरें दो ट्रक आये है। जानकरी देते हुए संस्था के प्रबंधक जगदीश वर्मा ने बताया कि शासकीय तय मूल्य 266 रुपये 50 पैसे है लेकिन गाड़ी भाड़ा व अन्य व्यय जोड़ने पर उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ता है जिसके कारण वे खाद नही बेच रहे थे जबकि उच्चाधिकारियों को भी इसकी जानकारी होने के बावजूद वे कोई निर्णय नही ले पा रहे है ऐसे में किसानों की समस्याओं को देखते हुए संस्था में पर्याप्त मात्रा में यूरिया खाद बुलवाया गया है जो किसान अपने आधार कार्ड के आधार पर प्राप्त कर सकेंगे। इधर तहसीलदार ने बड़ी कार्यवाही करते हुए राजस्थान से लाया जा रहा यूरिया खाद से भरा ट्रक पकड़ा है जिसे कृषि विभाग के साथ पंचनामा बनाया गया है जो अभी पुलिस थाने पर पड़ा है लेकिन अंदेशा जताया जा रहा है कि इसे किसानों का माल बताकर छोड़ दिया जाएगा जबकि खाद से भरें ट्रक को लाने वालें वाहन चालक व सहयोगी के पास से कोई भी कागजात नही मिलें है जो इसकी कालाबाजारी की कहानी कहते है। तहसीलदार भी ड्राइवर की सूचना के आधार पर कह चुके है कि खाद दत्तिगांव के 15 किसानों का है जबकि वे वाहन मालिक व ड्राइवर से यह पता नही लगा सके कि यूरिया खाद राजस्थान से किस फर्म से आया है व किसके पास जा रहा है। बहरहाल विधायक के हस्तक्षेप से बाजारों में भी यूरिया के दामों में कसावट देखने को मिली है जो 267 रुपये की यूरिया 350 से 450 तक बिक रही थी वह 280 से 300 रुपये बिक रही है वही 1400 रुपए की डीएपी 1500 से 1650 रुपए तक बिक रही है। भाव में थोड़ी कालाबाजारी व तेजी ही सही लेकिन अब किसानों को खाद मिलने लगा है।

  जिला कलेक्टर ने खाद आपूर्ति की जानकारी लेते हुए झाबुआ पेटलावद मेघनगर के गोडाउन में यूरिया डीएपी आदि का पर्याप्त मात्रा में भंडारण करवाते हुए विपणन सहकारी संस्थाओं व सहकारी सोसायटियों में यूरिया के रैक पहुँचाये। वही कालाबाजारी को रोकने के लिए बड़ी कार्यवाही करते हुए थांदला तहसीलदार व कृषि विभाग एसडीओ ने अवैध तरीके से राजस्थान से मध्यप्रदेश की ओर आ रहा यूरिया खाद से भरा ट्रक पकड़ा ट्रक व चालक दोनों कल्याणपुरा के बताए जा रहे है वही माल के सम्बंध में अभी कुछ भी स्पष्ट नही हुआ है ।

विधायक ने भी खाद की कालाबाजारी का मुद्दा उठाते हुए बड़ी बात कही थी

  एक तरफ किसानों को यूरिया की किल्लत मिल रही है वही 266 रुपये की खाद बाजारों में 350 से लेकर 450 रुपये में बिक रही है। वही राजस्थान से व्यापारियों द्वारा दो नंबर में यूरिया खाद बुलवा कर बाजरों में खपाया जा रहा है।
तहसीलदार ने पंचनामा बनाते हुए बताया कि जांच के बाद मामला स्पष्ट होगा, इधर कुछ व्यापारी यूरिया के अवैध धंधे पर एफआईआर करवाने पर अड़े हुए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here