सरकारी जमीन पर बाट दिए पट्टे, पूर्व सरपंच व सचिव पर भ्रष्टाचार का आरोप

589

पिपलौदा, मुकेश कुमावत

रतलाम जिले की पिपलौदा जनपद की ग्राम पंचायत रणायरा एक मामला सामने आया है यहां सरकारी जमीन पर पट्टे वितरण किये जाने के संबध मे गाँव के ही विष्णु दास पिता भैरूदास बैरागी द्वारा पट्टा वितरण मे ओर अन्य जगह बडे भ्रष्टाचार का खुलासा व लिप्तता होने को लेकर सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांगी। लेकिन पंचायत मे किसी नै आवेदन लेना उचित नही समझा तो सबंधित ने जनपद पंचायत पिपलोदा मे आवेदन दिया लंबे समय के बाद पंचायत सचिव ऊकारलाल कुमावत द्वारा पंचायत के लेटर पैड जो पोस्ट द्वारा बैरागी को भीजवाया जिसमें लिखा है आपका बीपीएल कार्ड निरस्त हो गया है आपको जानकारी लेने के लिए 54 हजार रुपये की डीडी जमा करानी पड़ेगी, जबकी शिकायत के साथ में बीपीएल भी लगाया गया था।

राशन दुकान से मिल रहा है खाद्यान

ग्राम रणायरा की राशन दुकान पर जाने के बाद सम्बंधित को पता चला कि उसका बीपीएल निरस्त नहीं किया गया है लगातार खाद्यान भी मिल रहा है पंचायत द्वारा जानकारी नही देने के लिए शिकायत कर्ता को गुमराह किया जा रहा है वही शासन के सूचना के अधिकार अधिनियम के आदेश की खुलेआम धज्जिया उड़ाई जा रही है।
दिनांक 27/05/2022 को सूचना के अधिकार के तहत आवेदन पिपलोदा तहसिल कार्यालय पर दिया था लेकिन आज दिनांक तक जानकारी उपलब्ध नही करवाई उल्टा पंचायत द्वारा बीपीएल निरस्ती का लेटर थमा दिया।

निष्पक्ष जांच हुई तो क्षेत्र का सबसे बडा घोटाला आएगा सामने

शिकायतकर्ता विष्णु दास बैरागी ने सचिव ऊकारलाल कुमावत व पूर्व सरपंच कुंतीबाई कुमावत पर भ्रष्टाचार का गम्भीर आरोप लगाते हुए उन्हें पंचायत द्वारा गुमराह करने की बात कही साथ ही बताया कि पंचायत द्वारा ऐसा करने पर मैंने 181 पर शिकायत की व कलेक्टर ऑफिस में जनसुनवाई में भी शिकायत की है उन्होंने बताया की अगर इस मामले मे निष्पक्ष जांच हो तो ग्रामीण क्षेत्र का सबसे बडा घोटाला सामने आ सकता है

सूचना के अधिकार में यह मांगी थी जानकारी

शिकायत कर्ता द्वारा ग्राम पंचायत के द्वारा 2017 से 2022 तक क्या क्या कार्य हुआ, पीएम आवास, प्लाट आवंटन, गौशाला रोड निर्माण, खेल मैदान, पीएम आवास के हितग्राहियों की सूची आदि जानकारी सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई थी लेकिन जानकारी अभी तक प्राप्त नही हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here