जयस का प्रतिनिधि मंडल पहुंचा देवास के खातेगांव…. दिया 8 दिन का अल्टीमेटम

502

Voice Of Jhabua                         वॉइस ऑफ झाबुआ

विगत दिनों खातेगांव थाना परिसर में जयस के रामदेव काकोड़िया को पुलिस द्वारा थाने पर बुलाकर मारपीट मामले ने तुल पकड़ लिया है, थाना प्रभारी खातेगांव के केबिन में मौजूद कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा के समर्थकों द्वारा मॉब लिंचिंग का प्रयास करते हुए बीस लोगो द्वारा बर्बरतापूर्वक थाना प्रभारी की मौजूदगी में मारपीट की गई ।इसी मुद्दे को लेकर जयस प्रतिनिधि दल जयस राष्ट्रीय प्रभारी इंजी लोकेश मुजाल्दा, जयस नारीशक्ति राष्ट्रीय प्रभारी श्रीमती सीमा वास्कले जयस व भीम आर्मी के साथी पीड़ित को लेकर पुलिस अधीक्षक देवास के पास पहुँचे और लिखित शिकायत करते हुए रामदेव काकोड़िया, राहुल बरवार ने पूरा घटनाक्रम पुलिस अधीक्षक महोदय को बताया साथ ही खातेगांव थाना प्रभारी को तत्काल बर्खास्त कर थाना परिसर में मॉब लिंचिंग करने वाले लोगों के खिलाफ नामजद शिकायत आवदेन दिया गया, सात दिन के अंदर कारवाई नही होने पर खातेगांव में आंदोलन की चेतावनी दी है। इस मौके पर जयस, भीम आर्मी, ओबीसी महासभा के लोग मौजूद रहे।जयस राष्ट्रीय प्रभारी इंजी लोकेश मुजाल्दा ने कहा कि आदिवासी समुदाय शांतिप्रिय अहिंसक निसर्गवादी होते हैं, वह सभी धर्म संप्रदाय के लोगों का सम्मान करते हैं। भारतीय संविधान में विश्वास रखते हैं। आदिवासियों के परिपेक्ष्य में संवैधानिक प्रावधानों तथा माननीय सुप्रीम कोर्ट के महत्वपूर्ण निर्णयों के बावजूद धरती के मूलबीज मूलवंश आदिवासी समुदाय के लोगों के साथ पुलिस की मौजूदगी में मारपीट दुर्भाग्यपूर्ण है। कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियां आदिवासी हितेषी होने का ढोंग करते है। पूरे मध्यप्रदेश में आदिवासियों पर शोषण और अत्याचार बढ़ता ही जा रहा है। हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं।भविष्य में ऐसी घटना ना दोहराई जाए इसलिए दोषियों के विरुद्ध कड़ी कारवाई की मांग की गई! इस अवसर पर डॉ आनंद राय, अनिल बरला ,राकेश देवड़े, रवि गामड़, अजय कन्नौजे, मनोज मुजाल्दे, दीक्षा उईके, तारसिंह जाधव, रवि रावत जयस, भीम आर्मी, ओबीसी महासभा के लोग मौजूद थे!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here