गाजों-बाजों, ढोल-धामाकों और आतिशबाजी के बीच झाबुआ के राजा निकलेंगे शहर भ्रमण पर

121

 

@Voice ऑफ झाबुआ       @Voice ऑफ झाबुआ

झाबुआ का राजा ग्रुप द्वारा इस वर्ष आगामी 31 अगस्त से 9 सितंबर तक 10 दिवसीय गणेश उत्सव भव्य रूप से मनाया जाना है। जिसको लेकर जेकेआर ग्रुप द्वारा जोर-शोर से तैयारियां की जा रहीं है। प्रचार-प्रसार भी जोर-शोर से जारी है। इस बीच शहर के सटे कृषि उपज मंडी प्रांगण में ‘‘झाबुआ के राजा’’ की करीब 15 फिट ऊंची प्रतिमा तैयार करने का कार्य बड़ौदा के 5 कलाकारों द्वारा किया जा रहा है।जानकारी देते हुए जेकेआर के वरिष्ठ सदस्य जितेन्द्र पंचाल ने बताया कि प्रतिमा तैयार कर ‘‘झाबुआ का राजा, जिन्हें मन्नतों का राजा’’ भी कहा जाता है, उनका सुंदर रूप से डेकोरेशन और सज्जा की जाएगी। झाबुआ के राजा की एक झलक पाने के लिए संपूर्ण शहरवासी सहित आसपास के अंचलों के लोग भी काफी बेताब एवं उत्साहित है। गुजरात के कलाकारों द्वारा प्रतिमा बनाने का कार्य अंतिम दौर में चल रहा है। 25 अगस्त, गुरूवार शाम तक गजानन महाराजजी की भव्य प्रतिमा बनकर तैयार हो जाएगी। 26 अगस्त, शुक्रवार संध्याकाल ठीक 7.30 बजे झाबुआ के मध्य बस स्टेंड से झाबुआ के राजा का शहर में पर्दापण होते हुए चल समारोह निकाला जाएगा।

डीजे के साथ आतिशबाजी से गूंजायमान होगा शहर

बस स्टेंड से झाबुआ के राजा का चल समारोह आरंभ होगा। इससे पूर्व यहां जोरदार रंगारंग आतिषबाजी की जाएगी। बाद डीजे के साथ बैंड-बाजों और ढोल-ताशो के बीच विशेष वाहन पर बाप्पा की प्रतिमा को विराजमान कर शहर के मेन बाजार, थांदला गेट, बाबेल चैराहा, सरदारभगतसिंह मार्ग, लक्ष्मीबाई मार्ग, राजवाड़ा, नेहरू मार्ग होते हुए कस्तूरबा मार्ग में विराजमान होंगे। जेकेआर ग्रुप द्वारा उक्त कार्यक्रम में शहर की समस्त सामाजिक, धार्मिक, साहित्यिक, सांस्कृतिक संस्थाओं, समाज प्रमुखों और शहर के सभी गणेश मंडलों को भी आमंत्रित किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here