एसडीएम द्वारा छात्रावास का आकस्मिक निरीक्षण किया गया जिसमें छात्रावास व आश्रम में खामियां मिली

390

रिंगनोद, योगेश गवरी

बीती रात्रि रिंगनोद नगर शासकीय बालक बालिका छात्रावासों और आश्रम का निरीक्षण करने लिए रविवार रात्रि 9:30 बजे सरदारपुर एसडीएम राहुल चौहान रिंगनोद में स्थित शासकीय बालक, बालिका छात्रावास और आश्रमों का निरीक्षण करने पहुंचे जहां पर आश्रम और छात्रावासों में कई खामियां पाई गई साथ ही किसी में बच्चे नहीं तो किसी में वार्डन अनुपस्थित पाए गए जिसको लेकर एसडीएम सख्त नाराज हुए साथ अनुपस्थित छात्रावास अधीक्षकों पर कार्रवाई को लेकर प्रस्ताव भेजने की बात भी कही गई । निरीक्षण के दौरान एसडीएम द्वारा छात्रावास के बच्चों से भी भोजन मीनू, नाश्ता ,स्वास्थ्य परीक्षण, पढ़ाई आदि को लेकर विस्तार से चर्चा की गई एसडीएम के औचक निरीक्षण से सभी रिंगनोद में स्थित छात्रावास, आश्रमों के वार्डन, सहायक वार्डनो सहित सभी में हड़कंप मच गया। रात्रि में ओचक निरीक्षण के दौरान एसडीएम द्वारा भोजनशाला खाद्य सामग्री आदि की वीडियोग्राफी भी करवाई गई जिसमें खामियां पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की बात कही गई वहीं लंबे समय से हॉस्टल अधीक्षक रहे उन पर भी कार्रवाई होना चाहिए क्योंकि लंबे समय से होने के कारण वहां की व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित नहीं हो पाती है शासन के नियमानुसार अधिकतम हॉस्टल अधीक्षक 3 साल से ज्यादा समय नहीं होना चाहिए अगर ऐसा होता है तो छात्रावास की व्यवस्था पर उंगलिया उठना वाजिद है खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा समय-समय पर छात्रावास अधीक्षकों छात्रावास व आश्रमों नियमानुसार प्रतिमा माह निरीक्षण होना चाहिए खंड शिक्षा अधिकारी नियमानुसार छात्रावास अधीक्षकों को समय-समय पर व्यवस्था सुचारू करने के लिए उनका पद स्थापना अलग-अलग जगह तभी छात्रावास की स्थिति कुछ सुधार हो प्रशासनिक अधिकारी छात्रावास मैं हो रही अप्रिय घटना आगे ना हो इसके लिए सख्त से सख्त कदम उठाना होगा तभी तभी आगे आने वाले समय में छात्रावास पर ऐसी घटना नहीं हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here