लुटेरी दुल्हन ससुराल के आभूषण और लाखों रूपए लेकर हुई नो दो ग्यारह

1198

 

 

@Voice ऑफ  झाबुआ     @Voice ऑफ झाबुआ

शादी करने के लिए अपरिचित लोगों के सम्पर्क में आए परिवार को शादी होने के चंद दिनों बाद ही घर से लाखों रुपए और स्वर्ण आभूषण लेकर दुल्हन फरार हो गई। मामले में पीड़ित परिवार ने थाने पर Fir दर्ज कराई।जहां Sp के निर्देश पर पुलिस ने सर्चिंग कर आरोपियों को गिरफ्तार किया।

क्या था मामला

फरियादी पारस राठौर पिता भंवरलाल राठौर निवासी झौपड पट्टी पिपलिया मंडी ने पुलिस थाना पंहुच कर रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि रिश्तेदार मदनलाल पिता जालम सिंह जाति बावरी निवासी पासलोद जिला उज्जैन ने उसके साथियों नाहर सिंह इत्यादि ने फरियादी पारस राठौर की शादी सोनाली बनकर निवासी फलंबरी औरंगाबाद महाराष्ट्र के साथ 20. जुलाई. 2022 को करवाई थी।जो 27. जुलाई. 2022 को मेरे द्वारा शादी में दिए गए 1 लाख पचास हजार रुपए व चांदी का कंदौरा,पैर के पायजेब लेकर घर से भाग गई।

फिर मैंने उसके रिश्तेदार मदनलाल से बात की मेरे परिचित विष्णु पिता शंभुलाल बावरी की शादी करनी हैं कोई लडकी बताओ तो फिर मदनलाल बावरी उसके परिचित महावीर पिता रमेशचन्द्र चमार, सुनिता पति कचरू उपरे, सीता पति पीरा जी लोडे, सिद्दार्थ पिता सोमा कोबले को साथ लेकर आए व 1 लाख पचास हजार रुपए में सौदा तय हुआ था व 11 हजार रूपए शगुन के रूप मे दिया था व उन सभी को पड़ोस के घर पर रूकवाया था जो रात्री में शगुन के रूपये लेकर फरार हो गए।

थाना पिपलिया मण्डी पुलिस द्वारा शादी का झांसा देकर धोखाधड़ी करने वाले लुटेरी दुल्हन के गिरोह का चंद घंटो में किया पर्दाफाश।

एसपी अनुराग सुजानिया के निर्देश एंव एसएसीपी गौतम सोलंकी एवं एसडीओपी मल्हारगढ़ मनोज रत्नाकर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी पिपलिया मण्डी निरीक्षक नरेन्द्र कुमार यादव व पुलिस टीम को मिली सफलता‌।

बता दें कि 30.जुलाई.2022 को फरियादी पारस राठौर पिता भंवरलाल राठौर निवासी झोपड़पट्टी पिपलिया मंडी ने थाना पर पंहुच कर रिपोर्ट की थी कि मेरे रिश्तेदार मदनलाल पिता जालम सिंह जाति बावरी निवासी पासलोद जिला उज्जैन ने उसके साथियों नाहर सिंह इत्यादि ने फरियादी पारस राठौर की शादी सोनाली बनकर निवासी फलंबरी औरंगाबाद महाराष्ट्र के साथ 20. जुलाई. 2022 को करवाई थी जो 27. जुलाई. 2022 को फरियादी द्वारा शादी मे दिए।

1 लाख 50 हजार रूपये व चांदी का कंदौरा, पैर के पायजेब लेकर घर से भाग गई थी।

फिर फरियादी ने उसके रिश्तेदार मदनलाल से बात की मेरे परिचित विष्णु पिता शंभुलाल बावरी की शादी करनी है कोई लडकी बताओ तो फिर मदनलाल बावरी उसके परिचित महावीर पिता रमेशचन्द्र चमार, सुनिता पति कचरू उपरे, सीता पति पीरा जी लोडे, सिद्धार्थ पिता सोमा कोबले को साथ लेकर आए व 1 लाख 50 हजार में सौदा तय हुआ था व 11 हजार रूपए शगुन के रूप में दिया था। बाद में उन सभी को पड़ोस के घर पर रूकवाया था जो रात्री में शगुन के रूपये लेकर फरार हो गए।

फरियादी की रिपोर्ट पर से थाना पिपलियामंडी पर अपराध क्रमांक 253/2022 धारा 420, 120 बी, 34 भादवि का पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना में लेकर आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु तत्काल टीम गठित कर आरोपियों मदनलाल पिता जालम सिंह जाति बावरी निवासी पासलोद थाना उन्हेल जिला उज्जैन, नाहर सिंह पिता राम सिंह राजपूत निवासी पालसोडा थाना इंगोरिया जिला उज्जैन, महावीर पिता रमेशचन्द्र चमार सोनाली पिता गौतम बनकर निवासी फलंबरी औरंगाबाद महाराष्ट्र, सुनीता पति कचरू उपरे निवासी आर्वी तहसील राजपुरा जिला चन्द्रपुर महाराष्ट्र, सीता पति पीरा जी लोडे निवासी मंगलवार पथ बासमथ बासमथनगर हिंगोली महाराष्ट्र, सिद्धार्थ पिता सोमा कोबले निवासी एरगव्हान देवाडा चन्द्रपुर महाराष्ट्र को चंद घंटों में ही गिरफ्तार किया व फरार आरोपिया सोनाली पिता गौतम बनकर निवासी फलंबरी औरंगाबाद महाराष्ट्र की तलाश हेतु आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। बाद में आरोपियों को न्यायालय मे पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।

धराये आरोपी
01-मदनलाल पिता जालम सिंह जाति बावरी उम्र 70 साल निवासी पासलोद थाना उन्हेल जिला उज्जैन,
02-नाहर सिंह पिता राम सिंह राजपूत उम्र 32 साल निवासी पालसोडा थाना इंगौरिया जिला उज्जैन,
03-महावीर पिता रमेशचन्द्र चमार सोनाली पिता गौतम बनकर उम्र 34 साल निवासी फलंबरी औरंगाबाद महाराष्ट्र,
04-सुनीता पति कचरू उपरे उम्र 40 साल निवासी आर्वी तहसील राजपुरा जिला चन्द्रपुर महाराष्ट्र सीता पति पीरा जी लोडे उम्र 35 साल निवासी मंगलवार पथ बासमथ बासमथनगर हिंगोली महाराष्ट्र,
05- सिद्धार्थ पिता सोमा कोबले उम्र 35 साल निवासी एरगव्हान देवाडा चन्द्रपुर महाराष्ट्र

फरार लुटेरी दुल्हन
सोनाली पिता गौतम बनकर निवासी फलंबरी औरंगाबाद महाराष्ट्र।

इनकी रही सराहनीय भूमिका
उक्त कार्यवाही में निरीक्षक नरेन्द्र कुमार यादव, उनि राकेश चौधरी, सउनि अर्जुन सिंह परिहार, सउनि मोहनलाल वर्मा, प्रधान आरक्षक 594 राजवीर यादव, प्रधान आरक्षक पूनम कर्णिक, आरक्षक वाजीद खान, आरक्षक शैतान कछावा, आरक्षक देवेन्द्र सिंह हाडा, आरक्षक गजेन्द्र सेन, आरक्षक अनिल शर्मा, आरक्षक अविनाश जैन, आरक्षक जितेन्द्र मालोदे, म.आर. दीपा यादव, म.आर.शिल्पा यादव, म.आर.दुर्गा कुंवर का सराहनीय योगदान रहा जिनको एसपी द्वारा पुरस्कृत किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here