वाह रे युवा मोर्चा तुम्हारा ये कैसा आस्था से खिलवाड़ कम से कम हिन्दू धर्म का अपमान तो मत करो

3007

तुम्हारी नेतागिरी के चक्कर मे हनुमान चालीसा आधी क्यो छोड़ी…?

जूते चप्पल पहनकर कोंन करता है हनुमान जी का पाठ

तुम चुनाव जीतो या हारो पर धर्म का मखोल ऐसे नही उड़ने देंगे….

Voice ऑफ झाबुआ

 

कल झाबुआ कलेक्टर कार्यालय में अध्यक्ष पद के लिए चुनाव हो रहे थे उसी समय भाजपा कांग्रेस की एक मामले को लेकर काफी बहस बाजी हो गयी और जमकर नारेबाजी भी शुरू हुई …..एक तरफ कांग्रेस के नेता कार्यकर्ता थे तो एक तरफ भाजपा के दोनों ओर से नारेबाजी जमकर होने लगी…..वहां मोजूद युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष और उनकी टीम ने उसी समय हनुमान चालीसा पढ़ना शुरू कर दिया उन्होंने हनुमान चालीसा को इस तरह से मजाक में लिया है धर्म का मखोल बना दिया पैरों में जुते ओर चप्पल पहने ओर तो ओर जब हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ रहे थे तो वह भी उन्हें याद नही था और उसे भी गलती करते हुए उल्टा लाइन भूल गए यहां तक भी ठीक था पर जब अचानक से युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष ने हनुमान चालीसा का पाठ चलते हुए नारेबाजी शुरू करदी ओर हनुमान चालीसा का पाठ बीच मे ही बन्द ……अब इसे क्या कहे यह कैसे संस्कार है युवा मोर्चा के जब खुद जिला अध्यक्ष ही ऐसी हरकत करेंगे तो कैसे काम चलेगा पूरे देश में भाजपा को हिंदूवादी पार्टी के नाम से जाना जाता है और यहां हिन्दू धर्म का इस तरह अपमान युवा मोर्चा ने किया यह कहा तक उचित है ….जिसको लेकर जिले के कई लोगो ने तीखी प्रतिक्रिया दी है और कहा है कि इस तरह हिन्दू धर्म का अपमान करना कहा तक उचित है…आपकी नेतागिरी आपकी जगह रखिए हनुमान चालीसा ओआ इस तरह अपमान ठीक नही है …..इससे बेहतर हम तो यही कहेंगे कि धर्म के नारे लगाने जे कुछ नही होगा पहले धर्म की किताबें पढ़ो तभी धर्म की बाते ओर ज्ञान बाट पाओगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here