थांदला कॉलेज में बीएसडब्ल्यू व एमएसडब्ल्यू पाठ्यक्रम की शुरुआत

28

 

देश के विकास में ग्रामीण विकास की भूमिका अहम होती है। ग्रामीण क्षेत्र में विकास एवं स्थानीय समस्याओं, कुरीतियों अंधविश्वासों शिक्षा एवं स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाने का दायित्व युवा बेहतर तरीके से निभा सकते हैं। शासन व ग्रामीण समाज के बीच की कड़ी के रूप में युवा अपनी नेतृत्व क्षमता का उपयोग कर सकते हैं,उक्त विचार उच्च शिक्षा विभाग द्वारा विकासखंड मुख्यालय पर शासकीय महाविद्यालय थांदला में , मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के सहयोग से मुख्यमंत्री नेतृत्व क्षमता विकास कार्यक्रम के अंतर्गत बीएसडब्ल्यू एवं एमएसडब्ल्यू सामुदायिक नेतृत्व एवं सतत विकास पाठ्यक्रम की प्रथम वर्ष की कक्षाओं में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों एवं परामर्श दाताओं के उन्मुखीकरण के लिए आयोजित कार्यक्रम में प्राचार्य डॉ जी सी मेहता ने व्यक्त किए। आयोजन का प्रारंभ मां सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्वलित कर एवं पुष्प माला अर्पित कर किया गया।जन अभियान परिषद थांदला के माध्यम से शासकीय महाविद्यालय में बीएसडब्ल्यू एवं एमएसडब्ल्यू के नव प्रवेश विद्यार्थियों हेतु स्वागत एवं पाठ्यक्रम के परिचय तथा पाठ्य सामग्री वितरण का आयोजन ब्लॉक समन्वयक वर्षा डोडियार द्वारा किया गया।प्रो. एस.एस. मुवेल ने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि वे अपनी क्षमता का उपयोग समाज के हित में कार्य करने हेतु करें। डॉ मीना मावी ने बताया कि समाज कार्य पाठ्यक्रम के माध्यम से विद्यार्थियों को ग्रामीण स्तर पर व्यावहारिक एवं उपयोगी तरीके से कार्य करने का सुनहरा अवसर मिलता है, इसका भरपूर लाभ उठाएं एवं अपने व्यक्तित्व का विकास करें। वर्षा डोडियार जन अभियान परिषद द्वारा पाठ्यक्रम संचालन की रूपरेखा प्रस्तुत की। मेंटर रानू राठौर ने विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम की उपयोगिता बताई। एम.एस.डब्ल्यू. में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों में से मुकेश भूरिया, कलसिंह सिंगाड़िया, अजय परमार, करण सिंह, शकुंतला,अमित वसुनिया,अखलेश निनामा, मुकेश निनामा आदि ने अपने अनुभव साझा करते हुए उनके द्वारा भी.एस.डब्ल्यू. पाठ्यक्रम के दौरान किए गए कार्यों का उल्लेख किया।कार्यक्रम के अध्यक्ष प्राचार्य डॉ.जी.सी. मेहता, मुख्य अतिथि वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ. पीटर डोडियार एवं विशेष अतिथि प्रो.एस. एस.मुवेल एवं डॉ. मीना मावी थी।
इस कार्यक्रम में मेंटर्स गंगाराम निनामा एवं शीलू मेडा के साथ बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने सहभागिता की। कार्यक्रम का संचालन मुकेश भूरिया ने एवं आभार वर्षा डोडियार ने माना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here