बाबू बनने गया जेंटलमैन,महिला कर्मचारी ने उतार दी लू

504

 

@Voice ऑफ झाबुआ        @Voice ऑफ झाबुआ

झाबुआ ओमप्रकाश राठौर

हमेशा अपनी कारगुजारियो ओर कर्तव्य हो या भ्रष्टाचार को ले कर सुर्खियों में रहने वाले स्वास्थ्य विभाग में आए दिन कोई न कोई कारनामा सामने आना अब कोई नई बात नही रह गई। पर आश्चर्य यह की इतना सब कुछ होने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी से ले कर प्रशानिक तंत्र में जिम्मेदार ओहदे पर बैठे अधिकारियों के कानो पर जूं तक नहीं रेंगती इस से या साबित होता हे की पूरा के पूरा लोकतंत्र हो या कार्यपालिका सभी कुंभकरणीय नींद सोए हुए हे ताजा मामला जिला चिकित्सालय में तीन दिन पूर्व उस समय सामने आया जब साहब के मुंह लगे एक बाबू की लूं एक महिला नर्स ने उतार दी। डर असल यह बाबू वास्तव में रंभापुर में पदस्थ हो कर लंबे समय से जिला चिकित्सालय में शासन के नियम विपरीत अटैच हो कर जिला स्वास्थ्य अधिकारी का लक्ष्मीपुत्र बना हुआ हे। इसी के चलते यह बाबू चूहे को चिंदी मिलने पर बजाजी बन बैठने वाली हरकतों से बाज नहीं आता किंतु बताते तीन दिन पूर्व यही बाबू परिसर में एक महिला नर्स जिसने कोविड काल में दिन रात सेवाएं दे कर स्वास्थ्य महकमे का नाम रोशन किया उसी से आवंटित आवास खाली करवा कर किसी अन्य ऐसे कर्मचारी को दिलवाना चाहता था जिसने इस बाबू को बड़ी भेंट साहब हेतु सौंपी थी बस फिर क्या था बाबू ने आव देखा न ताव पहुंच गया महिला नर्स के आवास पर और साहब के नाम और रोब से आवास खाली करने को ले कर धमकाने लगा आवास खाली करने की धमकी से महिला नर्स भड़क गई और आवास खाली करवाने गए बाबू को खूब खरी खोटी सुनाते हुए लूं उतार दी। अपनी इज्जत का पंचनामा सार्वजनिक रूप से होने के चलते बाबू भीगी बिल्ली बन वहा से रवाना हो गया। चिकित्सालय परिसर और कार्यालय में खबर लगते ही कर्मचारी चटखारे ले रहे हे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here