राजोद में धूमधाम से मनाया गया ईद-उल-फितर का त्यौहार

385

राजोद यामिन मनसुरी

 

मुस्लिम समाज का बड़ा त्योहार ईद-उल-फितर मुस्लिम समाज द्वारा मस्जिद में बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। मुस्लिम समाज के लोगों के द्वारा नूरानी मस्जिद में ईद उल फितर की नमाज के बाद मुल्क के अमन चैन, मुल्क की तरक्की और भाईचारे की दुआ की गई। ईद उल फितर की नमाज के लिए बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग एकत्र हुए और ईद की नमाज अदा करने के साथ-साथ एक दूसरे के गले लगकर ईद की मुबारकबाद दी।
पूरे एक महीने के कठिन रोजे रख इबादत करने के बाद ईद का त्योहार आता है। इस दिन लोगों के घरों में सेंवई बनती हैं, इसलिए इस पर्व को ‘मीठी ईद’ भी कहा जाता हे।
गौरतलब है कि परंपरानुसार ईद-उल-फितर का पर्व ‘शव्वाल’ की पहली तारीख को मनाया जाता है, जो कि रमजान के महीने के खत्म होने पर शुरू होता है। ‘शव्वाल’ का चांद दिखने पर ही ईद की तारीख तय होती है और चांद कल (सोमवार) दिखा था । इसलिए आज पूरे देश में भाईचारे और प्रेम के प्रतीक इस त्योहार को मनाया जा रहा है। शांति व्यवस्था और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस प्रशासन के माकूल इंतजाम किए गए थे । गिरदावर धुलिया पालिया,थाना प्रभारी रंजीत सिंह बघेल,एएसआई कैलाश चौहान ईसाई रेम सिंह बामनिया,एएसआई रमेश चंद नायक ,आरक्षक रितेंद्र राजावत,दीपक शर्मा ,लाखन सिंह,मोहित सेन एवम पटवारी मौजूद थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here