सुनार की दुकान से सोने की चेन चोरी करने वाले ईरानी गैंग का पर्दाफाश

1366

“सुनार की दुकान से सोने की चेन चोरी करने वाले ईरानी गैंग का पर्दाफाश”

घटना:- फरियादी मनोज सोनी जिनकी रूनवाल बाजार में कृतिरत्न ज्वेलर्स के नाम से ज्वेलरी की दुकान है। दिनांक 10.04.2022 को फरियादी मनोज द्वारा ज्वेलरी के स्टाक को चेक करने पर सोने की चैने कम पाई गई। दुकाने में लगे सीसीटीव्ही कैमरे चेक करने पर पता लगा कि दिनांक 02.04.2022 को एक अज्ञात व्यक्ति दुकान पर दोपहर करीब 1:20 बजे आता था व उसके द्वारा सोने की चैने देखने के लिये मांगी, इस दौरान पैंडल बताने को बोला तो पैंडल लेने के लिये मुडा उसी दौरान उस अज्ञात व्यक्ति ने प्लास्टिक की पन्नी में रखी सोने की 10 चैने चुरा ली व धीरे से दुकान से चला गया। जिस पर थाना कोतवाली में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
घटना का खुलासा :-
पुलिस टीम द्वारा ज्वेलर्स की दुकान के सीसीटीव्ही फुटेज को देखे गये। उसमें दिखाई देने वाला बदमाश बड़ी ही चतुराई से वारदात को अंजाम देता हुआ दिखाई दे रहा था। उक्त बदमाश का बातचीत करने का टोन व हावभाव ऐसा लग रहा था कि वह झाबुआ क्षेत्र का व्यक्ति नहीं है। फुटेज में ज्वेलर्स की दुकान पर तो एक बदमाश वारदात का अंजाम देते हुए दिखाई दे रहा था। किंतु पुलिस टीम द्वारा झाबुआ के हर चौराहो पर लगे 100 से अधिक सीसीटीव्ही कैमरो को देखा गया तो पता लगा कि इस वारदात को केवल एक व्यक्ति के द्वारा अजांम नहीं दिया गया है। यह दो व्यक्तियों का एक गैंग है, जिसमें से एक व्यक्ति बाहर मोटर सायकल के साथ में खड़ा होकर तस्दीक करता है व एक व्यक्ति वारदात को अंजाम देता है।
जिस पर पुलिस अधीक्षक झाबुआ श्री आशुतोष गुप्ता द्वारा थाना प्रभारी कोतवाली को निर्देशित किया कि सीसीटीव्ही फुटेज में दिखाई देने वाले व्यक्ति मोटरसायकल से हो ना हो आसपास के जिलों से ही आये होंगे। अज्ञात बदमाशों की पहचान हेतु आसपास के जिलों में अपने विश्वसनीय मुखबीरों को लगाकर सीसीटीव्ही फुटेज के आधार पर आरोपी की पहचान कर आरोपियों को पकड़ने के निर्देश दिये गये।
इसी तारतम्य में झाबुआ की पुलिस टीमों द्वारा अपने विश्वसनीय मुखबीरों को सीसीटीव्ही फुटेज भेजे गये। व पुलिस टीमों द्वारा आसपास के जिलों में जाकर भी तलाश की गई। इसी दौरान मुखबीर द्वारा सुचना मिली कि सीसीटीव्ही फुटेज में दिखाई देने वाले व्यक्ति ईरानी गैंग के हो सकते है जो कि फरियादी को बातों में लेकर अपनी हाथ की सफाई से चकमा देकर सोने-चाँदी के आभुषणों को चुरा लेते है। यह भी जानकारी प्राप्त हुई कि फुटेज में दिखाई देने वाले व्यक्तियों को सेंधवा जिला बड़वानी में देखा गया है। जिस पर झाबुआ पुलिस टीम द्वारा सेंधवा जाकर उक्त संदिग्ध व्यक्ति की तस्दीक की गई। जानकारी पुख्ता होने पर आरोपी असगर पिता रशीद अली सैय्यद मुसलमान निवासी देवझिरी कॉलोनी सेंधवा जिला बड़वानी को पुलिस गिरफ्त में लिया गया।
थाने लाकर सख्ती से पुछताछ करने पर उसने सारा राज उगल दिया। उसने बताया कि “हम लोग वारदात करने वाले क्षेत्र की पहले रैकी करते है, फिर जिस जगह वारदात को अंजाम देना होता है तो उस जगह उसका साथी बंटी जाकर फरियादी को चकमा देकर वारदात को अंजाम देता है व आरोपी असगर मोटर सायकल से बाहर खड़ा होकर आसपास के क्षेत्र की निगरानी रखता है।“ दिनांक 02.04.2022 को वह व उसका साथी बंटी मोटर सायकल से सेंधवा से झाबुआ आये। झाबुआ में आकर ज्वैलरी की दुकान से 10 सोने की चैन चोरी करना बताया। उसके हिस्से में आई 04 सोने की चैन को उसके घर से जप्त किया गया। बाकी की 06 चैन अपने साथी बंटी अली के पास होना बताया। पुछताछ के दौरान उसने अन्य भी कई घटनाओं के बारे में बताया है, जिसकी तस्दीक की जा रही है।
आरोपी बहुत शातिर तरीके से वारदातों को अंजाम देते है। फरार आरोपी बंटी की तलाश जारी है, जिसे भी जल्द गिरफ्तार किया जावेगा।
जप्त की गई सामग्री :-
सोने की 04 चैन, किमती 1,24,200/-रू.
आरोपियों के नाम :-
01. असगर पिता रशीद अली सैय्यद मुसलमान उम्र 30 वर्ष निवासी वार्ड क्रमांक 04 देवझिरी कॉलोनी सेंधवा जिला बड़वानी (गिरफ्तार)
02. बंटी पिता लाला अली मुसलमान निवासी खरिया रोड़ जिला नुआपाड़ा राज्य उड़ीसा (फरार)

उक्त घटना का खुलासा करने में थाना प्रभारी कोतवाली निरी. संजय रावत, उनि रामसिंह चौहान, सउनि जगदीश, सउनि महावीर वर्मा, प्रआर. 152 रमेश, आर. 62 रतन, आर. 524 मनोहर, आर. 30 गमतु, आर. 100 मुकेश, आर. 94 रूपसिंह एवं आर. 98 मंगलेश पाटीदार, आर. 552 महेश, आर. 573 संदीप, आर. 193 दीपक का सराहनीय योगदान रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here