येसू मसीह के पुनरुत्थान का पर्व ईस्टर हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

91

येसू मसीह के पुनरुत्थान का पर्व ईस्टर हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

थांदला- संपूर्ण मानव जाति के पापों की मुक्ति के लिए अपने प्राणों का बलिदान देने वाले पुनर्जीवित प्रभु यीशु की याद में ईस्टर(पास्का)पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।स्थानीय कैथोलिक चर्च परिसर में समाजजनों द्वारा मोमबत्ती जुलूस निकाला गया। तत्पश्चात पवित्र धार्मिक विधियां सम्पन्न कि गई।
ईस्टर पर्व पर समाजजनों को ईशवचन द्वारा मुख्य याजक फादर राजू मैथ्यू ने बताया कि आज मुक्तिदाता येसू मसीह जी उठे हैं,विश्व के सम्पूर्ण मानव जाति के लिए खुशी का दिन है,क्योंकि प्रभू येसू मसीह ने हमारे पापों व कुकर्मों के कारण दुःख भोगा, उसे क्रूस पर चढ़ाया गया, यहां तक कि अपने प्राणों का बलिदान भी दे दिया,तीसरे दिन मृतकों में जी उठे,यह हम सब के लिए बड़े ही आनंद,हर्षोल्लास,खुशी का पर्व है, ईसाई समाज द्वारा प्रभू येसू मसीह के पुनरुत्थान से पूरा चर्च परिसर खुशी से झूम उठा,चर्च की घंटियां लगातार बजती रही,महिमा गान गाया गया।तालियों की गूंज से पुनरुत्थान येसू मसीह का स्वागत किया गया। ओर अंत में बधाईयां का दौर चलता रहा।पवित्र मिस्सा को पल्ली पुरोहित फादर अन्तोंन,फादर विरेन्द्र,फादर विशाल,फादर सोनू,फादर राकेश,फादर अंतोनी,फादर बसिल, ब्रदर प्रेम आदि के द्वारा पवित्र याजकीय कार्य सम्पन्न किया गया।पास्का त्यौहार के आयोजन को सफल बनाने में पल्ली परिषद,पूजन विधि समिति,महिला संघ, अनुशासन समिति,युवा संघ,बालक येसू संघ आदि ने अपनी सहभागिता प्रदान की। संगीत दल द्वारा सुमधुर भजनों द्वारा भक्तिमय माहौल बनाए रखा।पवित्र बाइबल का वाचन मथियास रावत,सुनिता खोखर,आरती रावत,प्रियांश निनामा,शैलेन्द्र निनामा,उपासना कटारा द्वारा किया गया।अंत में सभी का आभार पल्ली पुरोहित फादर अन्तोंन कटारा ने माना।उक्त जानकारी मीडिया प्रभारी विकास रावत ने दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here