फर्जी छात्र बिठाकर परीक्षा दिलाने वाले दो शिक्षकों पर गिरी गाज, बाकी शिक्षकों को क्यो बख्शा गया l परीक्षा संचालित करवाने वालों को क्यों निलंबित नहीं किया गया ? ये कैसी कार्यवाही, कलेक्टर साहब? सुरेंद्र सिह मैडा, जवरसिंह कटारा, कैलाश कहार, बाबू कटारा पर मेहर बानी क्यों ?

3941

 

फर्जी छात्र बिठाकर परीक्षा दिलाने वाले दो शिक्षकों पर गिरी गाज, बाकी शिक्षकों को क्यो बख्शा गया l

सुरेंद्र सिह मैडा, जवरसिंह कटारा, कैलाश कहार, बाबू कटारा पर मेहर बानी क्यों ?

झाबुआ जिले के थांदला विकास खण्ड पर के कुकड़ी पाड़ा संकुल के मिडिल स्कूल तलावड़ा स्कूल पर सरे आम परीक्षा की धज्जियां उड़ाकर 5 अनुपस्थित छात्रों के स्थान पर अन्य छात्रों को बैठाकर परीक्षा दिलाई जा रही थी। मीडिया कर्मियों द्वारा खण्ड शिक्षा अधिकारी अहिरवाल को फोन पर सूचना दी गई l खण्ड शिक्षा अधिकारी द्वारा जाँच मे पाँच फर्जी परीक्षा दे रहे छात्रों की उत्तर पुस्तिका जप्त की गई l खण्ड शिक्षा अधिकारी द्वारा संबंधित सभी शिक्षकों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया व वरिष्ठ कार्यालय को इस संबंध में जानकारी भेजी गई, पर वरिष्ठ कार्यालय मे क्या सेटिंग हुई की इतने बड़े फर्जी वाड़े मे मात्र 2 शिक्षकों पर ही कार्यवाही हुई बाकि सबसे अधिक दोषी तो केंद्राध्यक्ष जवरसिंह कटारा व सहायक केंद्राध्यक्ष कैलाश कहार है जिनके मार्ग दर्शन मे निष्पक्ष रूप से परीक्षा संपन्न कराने की जिम्मेदारी थी । इन दोनो को मात्र कारण बताओ नोटिस जारी कर बख्शा जा रहा है आखिर क्यों ? साथ ही तलावड़ा स्कूल के प्रधान अध्यापक सुरेंद्र सिह मैड़ा जिनके सानिध्य में उनके स्कूल पर परीक्षा संपन्न कराने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी थी उन्हें क्यो बख्शा गया ? इसके अलावा जब 5 बच्चे फर्जी परीक्षा दे रहे थे उनमे दो बच्चे मोजिपाड़ा स्कूल के छात्रों की जगह परीक्षा देते पकड़ाये जिन्हे मोजिपाड़ा स्कूल के शिक्षक रामलाल मैडा लेकर आये थे उन्हें निलंबित किया गया l
व दो बच्चे जो की मालासात स्कूल के बच्चो की जगह परीक्षा देते पकड़ाये जिन्हे मालासात स्कूल के शिक्षक प्रेम सिह डामर लेकर आये थे शिक्षक डामर को भी निलंबित किया गया परंतु 1 बच्चा जो गढ़ी स्कूल के बच्चे की जगह अन्य बच्चा परीक्षा देते पकड़ाया जिसे गढ़ी स्कूल के शिक्षक बाबू कटारा लेकर आये थे तो फिर बाबू कटारा पर मेहरबानी क्यो? लगता हैं सेटिंग तगड़ी हुई हैं ?

ये था मामला

झाबुआ जिले के खवासा क्षेत्र की कुकड़ीपाड़ा संकुल क्षेत्र के तलावड़ा स्कूल में एक ऐसा मामला सामने आया कि स्थानीय प्रशासन के साथ ऊपर तक की कारस्ताने सामने उजागर हो रही है । मीडिया कर्मियों को जानकारी मिली कि ग्राम तलावड़ा की मिडिल स्कूल में आयोजित हो रही पांचवी और आठवीं की परीक्षा में जो बच्चे पलायन पर गए हैं उसमें कुछ अन्य छोटी कक्षा के बच्चों से फर्जी रूप से परीक्षा दिलाई जा रही है । मौके पर मीडिया कर्मी तलावड़ा स्कूल पहुंचे , तो यहां प्राथमिक शाला के विद्यार्थी तीन कक्षों में 119 कूल विद्यार्थी में से 61 विद्यार्थी परीक्षा दे रहे थे । वही आठवीं कक्षा में कुल 67 विद्यार्थियों में से 30 विद्यार्थी परीक्षा में उपस्थित थे l प्रधानाध्यापक से पूछताछ में मामला सामने आया कि
1.नगजी मोवडीपाड़ा रोल नम्बर 137596276 के स्थान पर छात्र महेश कटारा
2.दीपक पिता माना जाति माल , मालासाठ स्कुल रोल नंबर 130627822 के स्थान पर ज्ञानू पिता रूपसिंह माल
3.आशु मालासात स्कूल की छात्रा रोल नंबर 130376655 के स्थान पर प मोनिका पिता हुकला
4.अज्जू पिता धनसिंह गढ़ी पुलिया स्कूल रोल नंबर 140160675 के स्थान पर अजय
5. संबुडा मोवड़ीपाडा स्कूल की छात्र रोल नंबर 137222431 के स्थान पर सेवा प्रभु परीक्षा कक्ष में परीक्षा देते पाया गए l

जिनसे पूछने पर सभी फर्जी रूप से 5 बच्चे परीक्षा दे रहे थे उन्हें परीक्षा दिलाने के लिए संस्था के प्रभारी शिक्षक लेकर आए थे । जिसमें मोवडीपाड़ का प्रभारी शिक्षक रामलाल मैंडा , मालासात शाला प्रभारी प्रभु डामर, गढ़ी फलिया प्रभारी बाबू कटारा लेकर आए थे । बड़ी उक्त केंद्र पर सादेड़ा तलावड़ा व केससुरा प्राथमिक शाला के छात्र भी परीक्षा दे रहे थे । जहां सादेड़ा प्राथमिक शाला प्रभारी मनीष भट्ट और तलावड़ा शाला प्रभारी व सहायक केंद्राध्यक्ष कैलाशचंद्र कहार भी ड्यूटी पर उपस्थित थे । साथ ही प्रधानाध्यापक सुरेंद्रसिंह मैड़ा व केंद्राध्यक्ष जवरसिंह कटारा जिनकी करीब 20 दिन बाद रिटायरमेंट होना है , परंतु यह सारा फर्नीवाड़ा खेल इनकी उपस्थिती में ही हुआ मामले में थांदला बीईओ प्रेमनारायण अहिरवार के साथ थांदला बीआरसी अंतरसिंह रावत व चंद्रप्रकाश त्रिपाठी परीक्षा केंद्र मिडिल स्कूल पहुचे और फर्जी यानी अन्य चौथी कक्षा के छात्रों से पांचवीं कक्षा के अनुपस्थित बच्चों की परीक्षा देते पाए जाने पर पाँचो परीक्षा कॉपी जप्त कर थांदला बीईओ कार्यालय ले जाया गया । फिलहाल बताया जा रहा है बीईओ कार्यालय से संबंधित शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है l वरिष्ठ कार्यालय को अभी तक सूचना के साथ मामले में पूरी जानकारी दे दी गई है l

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here