*बी.एस.एन.एल विभाग में ठेकेदार के अधीन कार्यरत कर्मचारियों को 6 माह से नही मिला वेतन…. एक माह से भी ज्यादा समय से बन्द पड़े है लैंडलाइन*

0
3
- Advertisement -
बामनिया आरिफ मंसूरी 
झाबुआ जिले के बी.एस.एन.एल विभाग में ठेकेदार के अधीन कार्यरत कर्मचारियों को 6 माह से नही मिला है वेतन जिसका बड़ा खामियाजा लैंडलाइन उपभोक्ताओ को उठाना पड़ रहा है बामनिया भारत दूरसंचार निगम लिमिटेड टेलीफोन एक्सचेंज SDOT पेटलावद DE झाबुआ के अन्तर्गत आता हे जो पूरा एक्सचेन्ज सिर्फ ठेकेदार के अधीन कार्यरत कर्मचारी के भरोसे छोड़ रखा है बताया तो यहां तक जा रहा है काफी लंबे समय से अस्थाई कर्मचारी कार्यरत हे यंहा विभाग का स्थाई कर्मचारी नही होने से लैंडलाइन कनेक्शन की स्थिति बद से बदतर है हरमहिने  बिल जमा करने के बावजूद यंहा के टेलीफोन एक माह से भी अधिक समय से लैंडलाइन कनेक्शन बन्द पड़े है उपभोक्ता इस लचर व्यवस्था से खासे परेशान हो रहे है बीएसएनएल लैंडलाइन बंद होने की शिकायत विभाग के अधिकारीयो सीजीएम भोपाल, जीएम इंदौर, डीई झाबुआ, एसडीओटी पेटलावद,को लड़खड़ाती व्यवस्था के बारे में  बार अवगत कराने के बाद भी अधिकारियों के कानों पर आज तक जु तक नहीं रेंगी ओर लैंडलाइन में कोई सुधार नही हुआ जेटीओ को शिकायत के बारे में अवगत कराया गया तो वह बोलेते हे ठेकेदार के अधीन कार्यरत कर्मचारियों को 6 माह से वेतन नही मिला है इसलिए हम उन्हें काम के बारे में ज्यादा नही बोल पाते है ओर इसका खामियाजा उपभोक्ताओं को उठाना पड़ रहा है बीएसएनएल अक्सर त्योहारों के सीजन में लोक लुभाने वादे कर अच्छी व्यवस्था व सरल सुविधा देने की बातें करता है लेकिन व्यवस्था अक्सर लड़खड़ाती रहती है विभाग की लापरवाही के कारण उपभोक्ता लैंडलाइन कनेक्शन बंद करवा कर निजी कंपनियों की सिम खरीद ने पर मजबूर हो रहा है बताते है किसी जमाने में बीएसएनएल की व्यवस्था की लोग दुहाई देकर अपने घरों पर लैंडलाइन कनेक्शन करवा कर व सिम भी बीएसएनएल की ही खरीदते थे लेकिन आज सब उल्टा हो रहा है BSNL सिम कार्ड को यातो अन्य कम्पनियों मर पोर्ट करवा रहे है या फिर बंद ही करवा दे रहे है। आखिर कब सुधरेगी व्यवस्था कब जागेंगे जिम्मेदार
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here