तप करने के लिये मन को साधना पडता हे जो मन को साध ले वह जीत जाता हे

217

करवड़ से विनोद शर्मा

एसे ही तपस्वी अशोक श्रीमाल ने61 की उपवास करके दिखाया हे ओर पुरे गाव मे वरगोरा बेन्ड व बाजे के साथ निकाला गया । तप करने के लिए मन को साधना पड़ता है। जो मन को साध ले वह जीत जाता है। रसेन्द्रिय पर नियंत्रण करना ही तप है।संकल्प से ही सिद्धि मिलती है। देव-गुरु कृपा से शक्ति मिलती है।आज ग्राम करवड़ में , जिला पंचायत सदस्य विक्रम मेड़ा, विधायक प्रतिनिधि शैलेन्द्र सिंह गंगाखेड़ी , पेटलावद विधायक प्रतिनिधि आशीष मुथा, जयदीप पाटीदार राघवेन्द्र झाला ने तप अभिनंदन समारोह में तपस्वी अशोक श्रीमाल को 31 किलो की पुष्प की माला से स्वागत किया ओर अनुमोदना दी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here