कोरोना काल के स्थगित बढे हुए बिजली बिल वापस ले सरकार – विधायक ग्रेवाल

3155

सरदारपुर

विधायक प्रताप ग्रेवाल ने सोमवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को पत्र लिखकर प्रदेश के घरेलु उपभोक्ताओ के कोरोना काल मे स्थगित किए गए बिजली बिल कोरोना काल के बाद पुनः बढाकर दिए जाने पर बढे हुए बिजली के बिल उपभोक्ता के हित मे वापस लेने की मांग की है। पत्र मे बताया गया है कि प्रदेश मे कांग्रेस सरकार के समय इंदिरा गृह ज्योति योजना मे पात्र उपभोक्ताओ के बिजली बिल फरवरी 2020 तक 100 रूपये से 400 रूपये तक आ रहे थे। लेकिन आपके द्वारा मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालते के बाद कोरोना काल मे 04 माह के स्थगित बिजली बिल की राशि को वर्ष 2021 मे बढाकर दिया गया है जिसमे घरेलु उपभोक्ताओ के बिजली बिल 01 हजार से लेकर 90 हजार रूपये तक के आए जिसमे अधिकांश उपभोक्ता गरीब परिवार के है। प्रदेश मे जब कांग्रेस सरकार थी और आप विपक्ष मे थे तो उस समय आपके नैतृत्व मे प्रदेश की राजधानी भोपाल मे दिसंबर माह मे बढे हुए बिजली बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए आपके द्वारा कहा गया था कि गरीबो के साथ अन्याय नही होने दूंगा, 100 रूपये से ज्यादा के बिजली बिल नही भरेगे और आपके द्वारा प्रदेश की जनता को बढे हुए बिजली के बिल नही भरने की सलाह दी गई थी। फिर आपकी सरकार बनते ही प्रदेश के गरीब एवं मध्यम वर्गीय उपभोक्ताओ को बढे हुए बिजली बिल देकर कहर ढाया जा रहा है क्या पुनः प्रदेश के मुख्यमंत्री बनते ही आपको गरीब एवं मध्यम वर्गीय परिवारो की मुसीबत का एहसास नही हो रहा है, प्रदेश मे कोरोना महामारी के प्रकोप से छोटे मध्यमवर्गीय, छोटे व्यवसायी के उद्योग धन्धे चौपट हो गए है। प्रदेश के घरेलु उपभोक्ताओ को कोरोना काल मे स्थगित किए गए बिजली बिल कोरोना काल के बाद पुनः बढाकर दिए जाने पर बढे हुए बिजली बिल उपभोक्ता के हित मे वापस लिए जाए, ताकि घरेलु उपभोक्ताओ को राहत मिल सके। यह जानकारी विधायक कार्यालय से विष्णु चौधरी द्वारा दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here