आम जनता को कलेक्टर के रुप मे मिला है एक जनसेवक, सीएमएचओ डॉ ठाकुर को किया गया कार्य मुक्त

2196

Voice of झाबुआ

  वैसे तो झाबुआ जिले में कई कलेक्टर आये ओर कई गए किसी ने झाबुआ जैसे आदिवासी अंचल को प्रयोग शाला बनाया तो किसी ने जिले के लिए कुछेक काम किए भी तो कुछ सिर्फ आफिस से बाहर ही नही निकले ओर ऐसी की हवा खाते रहे… पर जबसे झाबुआ कलेक्टर के रूप में सोमेश मिश्रा ने पदभार ग्रहण किया है तबसे लेकर आज तक लगातार जिले की जनता के कार्यों के लिए प्रतिबद्ध है लगातार प्रशाशनिक अधिकारियों की मांनिटरिंग करना गांवों में घूमना जनता से रुबरु होना उनकी समस्याएं जानना ओर गैर जिमेदार अधिकारी को सख्त लहजे में समझाना यही कारण है कि आज झाबुआ जिले में कलेक्टर साहब ने एक जनसेवक के रूप में अपना मुकाम हासिल किया है जिले की जनता कलेक्टर साहब से बेहद खुश है उनके हर कार्य सरकारी दरबार मे हो जाते है न कोई रिश्वत न कोई अड़बाजी बस यही खूबी की झाबुआ जिले की जनता कायल है।

कलेक्टर साहब ने भ्र्ष्टाचार के आरोप लगते है इन विभागों पर चलाया डंडा

  जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ ठाकुर की जगह आज झाबुआ कलेक्टर द्वारा  संयुक्त कलेक्टर सुनील कुमार झा को प्रशासकीय कार्य सुविधा की दृष्टि से निम्नलिखित विभागो की सम्पूर्ण नरितयां स्थापना,वित्तीय, क्रय का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया।

कलेक्टर साहब अगर हो सख्त जांच… तो ओर भी खुलेंगे राज

  यदि शुक्षमता से जांच कराई जाए तो हो सकते है कई घोटाले उजागर जिनमे प्रमुख है दवाई वाहन सिक्योरिटी , वाहन अटेचमेंट से लेकर दवाइयों के बिल लगे दवाई आई नही इन मामलों की भी यदि बारीकी से जांच कराई जाए तो गड़बड़ घोटाला होजाएगा उजागर वही कमथेन सिक्योरिटी में भी कई गोलमाल है जोकी साफ सुथरी जांच के बाद सामने आसकते हे जिला कलेक्टर सोमेश मिश्रा का धन्यवाद देते है की आपके कार्यकाल में इस तरह से भ्रष्ट अधिकारियों पर अंकुश लगाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here