चार साल नींद में नगर परिषद अध्यक्ष और भाजपा के पार्षद, चुनाव आते ही धड़ाधड़ भूमि पूजन।

231

आजाद नगर भाभरा की भाजपा की नगर परिषद बीते 21 सालो से नगर में एक छत्र रूप से काबिज है परंतु विकाश के नाम पर सिर्फ और सिर्फ नगर परिषद के अध्यक्ष और पार्षदों ने विकास के नाम पर भ्रष्टाचार और कमीशन खोरी का ही काम किया है जिससे आज भी नगर की कई सड़के धूल से भरी है कई सालो बाद भी कई सड़को और नालियों तक का निर्माण नही हुवा है आज अलीराजपुर जिले की स्थापना का स्थापना दिवस है और जिले में गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है आजाद नगर भाभरा में अमर शहीद चंद्र शेखर आजाद की कुटिया या यू कहे स्मृति मंदिर के अलावा कोई भी ऐसी जगह नहीं जिसपर नगर परिषद को गौरव हो ,खेल मैदान हो या सब्जी मंडी स्थानीय बस स्टैंड हो ,या नगर की साफ सफाई हो आजाद ग्राउंड का आज तक भी सिंदर्यीकरण पूरा नहीं हुवा फिर केसा गौरव दिवस ।आज अचानक से नगर में चर्चा का विषय है नगर हित में नगर के कई हिस्सों में भूमि पूजन किए जाना बीते चार वर्षो में नगर में एकाध या यू कहे तो दो से तीन काम के लिए भूमि पूजन किए गए और चुनाव नजदीक आते ही नगर में हर गली मोहल्लों और वार्डो में भूमि पूजन का ढिंढोरा पीटा जा रहा है क्या जनता को चुनाव आते ही विकाश के नाम पर नालिया और सड़के और अन्य काम के नाम पर भूमि पूजन किया जा रहा है ।चुनाव की घोषणा होते ही अचार संहिता का भी डर भी नगर परिषद अध्यक्ष और पार्षदों को सताने लगा है विकाश के नाम पर चार साल तक कुछ भी नही करना और अचानक चुनाव सामने आने के बाद पार्षद और अध्यक्ष जनता के बीच किस विकाश का मुद्दा लेकर जायेगे यह सोच कर एक सोची समझी साजिश के तहद ताबड़तोड़ भूमि पूजन ताकि जो राशि है उसका उपयोग कर लोगो को काम दिखाना और ठेकेदार से कमिसन लेकर अपना चुनाव का पूरा खर्चा निकालने का भी उद्देश्य साथ लिए भूमि पूजन किया जा रहा है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here