महिला मोर्चा के तीन दिवसीय राष्ट्रीय प्रशिक्षण वर्ग में दूसरे दिन शनिवार को विभिन्न वक्ताओं ने उदबोधन दिया।

56

@Voice ऑफ झाबुआ          @वॉइस ऑफ झाबुआ
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय संगठक वी. सतीश ने प्रशिक्षण वर्ग को संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्र का वैभव आम आदमी पर निर्भर करता है। हर हाथ को काम, हर खेत को पानी जैसे विचारों पर चलकर ही एक देश एक विचार बनता है। विश्व एक परिवार है और इसे आगे ले जाया जा सकता है। केन्द्रीय रेल राज्यमंत्री श्रीमती दर्शना जरदोश ने भारतीय जनता पार्टी की महिला सशक्तिकरण में योगदान का विषय रखा और विभिन्न प्रकार की महिला सशक्तिकरण योजनाओं पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि घरेलू महिलाओं को उद्योग से कैसे जोड़ा जा सकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कविता यही समय है, सही समय है के साथ समापन किया। भारतीय महिला कानून की विशेषज्ञ श्रीमती मोनिका अरोरा ने भारतीय महिला कानून विषय पर संबोधित करते हुए कहा कि महिलाएं कैसे न्याय पाने के लिए लडाई लड सकती है। यूजीसी की सदस्य श्रीमती सुषमा यादव ने राष्ट्रीय निर्माण में महिलाओं के योगदान की बात कहते हुए कहा कि राष्ट्रीय निर्माण में महिलाओं की अहम भूमिका है।हेलेस्टिक डेव्हलपमेंट ऑफ पर्सनलिटी के रवि साठे ने संबोधित करते हुए महिलाओं को व्यक्तित्व विकास और संचार के महत्व की बाते बतायी। उन्होंने व्यक्तित्व विकास और कौशल विकास का मार्गदर्शन दिया।इसी प्रकार अन्य नेतागणों ने अलग अलग विषयों पर सत्र में मार्गदर्शन दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here