वाह रे सटोरियों….पुलिस आये तो महिलाओं को करोगे आगे..

879

 

सटोरियों के भी क्या कहने पुलिस को भी अपने पैरों की जुती समझने लगे है…और पुलिस को ही फंसाने की साजिषे रच रहे है।जैसा की हमने पिछले अंक में कौन कहा सटटा चला रहा है नाम सहित समाचार का प्रकाशन किया था और यह भी बताया था कि अगले अंक में हम किसका काला कारोबार कहा तक फैला हुआ है ये बताने आज जा रहे है तो हम सबसे पहले बात करते है नम व कालम की, पुलिस कप्तान साहब यहां इन पर अपराध तो कई है…पर हम आज आपको इनके काले कारोबार के बारे में बताते है नम और कालम ने ग्रामीण क्षेत्रों को अपना टारगेट बना रखा है… जिनमें मेलपाडा,नल्दी,भोयरा, कालापीपल,गोला छोटी खराडी फलिया और नगर में मारूती नगर, हुडा,मटन मार्केट को अपना निशाना बना रखा है। इन जगह पर इन्होने अपने गुर्गे बैठा रखे है तो इनके सट्टे जुए और तितली भमरे जैसे काले कारोबार को चलाते है…इन्होने अपने गुर्गों को कह रखा रखा है कोई भी पुलिस आये तो महिलाओं को आगे कर दो…और पुलिस को महिलाओं से चप्पल खिलवाओ…इनके रास्ते में जो भी आता है उसके साथ ये ऐसा ही करते है अगर कोई शिकायत करे या फिर समाचार भी प्रकाशन करें तो ये झुठी शिकायत करने का कहते है और कहते है अपनी औरतों को लेकर जाओ…अभी भी इन्होने इनका गुर्गा सलीम जो जेल के पीछे रहता है उसे ऐसी ही झुठी शिकायत करने की सिख दी है… मगर ये भुल गए है कि अगर जांच होगी तो इनके सारे काले कारनामें उजागर होंगे… तो ये कैसे झुठी शिकायत कर फंसा सकते है…
इस काले कारोबार को लिखने का काम सलीम और छोटु करते है और लेनी देनी युसुफ करता है…रोज शाम और इसके अलावा सोमवार को इनकी लेनीदेनी होती है… नम और कालम दोनों पर अपराध पंजीबद्ध है…पुलिस कप्तान से निवेदन है जो इनकी जिला बदर की फाईल छिपी हुई है उसे निकाली जाये और इन काले कारोबारियों पर सख्त से सख्त कार्यवाही की जाये। कुछ काले कारनामों वालों के यहां इनकी उठक बैठक है इस वजह से ये पुलिस को अपने पैरों की जुती समझते है…ये बैठक बस स्टेंड के समीप एक स्कूल के पास होती है जहां सारे दो नम्बर वालो का आना जाना है…इन सबके काले कारनामें जो यहां बैठते है उसे हम अगले अंक में बतायेंगे।
बाकि कौन कहां सटटा संचालित कर रहा है एक बार और पढ लीजिये।सोनु मोदी गली में… तपन घागरा गली… भयु बावडी मस्जिद अपने घर व आजाद चैक पर अपनी दुकान पर सटटा लेता है…सलीम मटन मार्केट में… लोकेन्द्र चैहान उर्फ लच्चु दिलीप गेट ये पहले अपने जाल में फंसाता है फिर ब्याज बट्टे का खेल खेलता है… शालु हुडा और हुसैनी चोक….धनु सेठ सटटा गली में अपने घर पर व थांदला गेट… पिटोल का कालु कुण्डला और मोद खाकरा? ललीत तेलीवाडा… अयोध्या बस्ती मे… मनीस जेल के पीछे… साजीद नावी ये रजला व आसपास के क्षेत्र की खाईवाली करता है… जीतु बाजार के मुख्य लोगों का सटटा लेता है… और इसका आका खतरी इनमें से कई सटोरियों को सट्टे का काला कारोबार चलाने के लिए फाईनेंस भी करता है…पुलिस कप्तान से निवेदन है कि ऐसे सटोरियों पर लगाम कसे क्योंकि इन्ही लोगों की वजह से अपराधों को बढावा मिलता है और नम कालम जैसे लोग ही अपराधों को जन्म देते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here