श्री विश्वकर्मा चारभुजा नाथ मंदिर में भगवान विश्वकर्मा मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा उत्सव का समापन पूर्णाहुति के साथ हुआ

22

 

 

रिंगनोद से योगेश गवरी की रिपोर्ट

श्री विश्वकर्मा वंश सुथार समाज (गोडवाड़, पट्टा, मालवा)द्वारा भगवान श्री चारभुजा नाथ एवं गजानंद एवं विश्वकर्माजी की मूर्ति प्राणप्रतिष्ठा का आयोजन पूर्णाहुति ,कलश स्थापना, मन्दिर शिखर की ध्वजा फहराकर एवं मूर्तियों को स्थापित कर विधिविधान से सम्पन्न हुआ,मालवा सहित चार राज्य के हजारों समाज जन एवं आस पास के क्षेत्र से ग्रामीण जनों ने हिस्सा लेकर प्रभू भक्ति का गुणगान किया उपस्थित समस्त जनो ने परम् पूज्य सनातन गिरी महाराज के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया,भगवान श्री विश्वकर्मा जी की अष्ट धातु मूर्ति के भी दर्शन किए, हजारों की संख्या में यज्ञशाला की परिक्रमा की एवं बीमारियों को नष्ट करने ,सुख शांति श्रमृद्धि की कामना की पूर्ण आहुति पंडित गिरिराज शंकरलाल व्यास के सानिध्य में संपन्न हुई,महा आरती उतारकर महा प्रासादी का वितरण किया गया ततपश्चात सह भोज कर ग्रामीणों एवं समाजजनों ने धर्म का लाभ लिया,मन्दिर को फूलों कि माला एवं अन्य वस्तुओ से सजाया गया को पूरे कार्यक्रम में आकषर्ण का केंद्र रहा सम्पूर्ण कार्यक्रम को सफल बनाने में कार्यकर्ताओ, भामाशाहों का सम्मान किया साथ ही बहार से पधारे हजारों अतिथियों का आभार समाज के अध्यक्ष कन्हैयालाल कर्मा ने माना ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here