हिन्दू समाज की 30 तारीख को रैली,ईसाई समाज ने प्रशाशन से की मांग

603

 

 

 

ईसाइ समुदाय द्वारा अनुविभागीय दंडाधिकारी को, दिनांक 30.04.22 को जनजाति सुरक्षा मंच एवं अन्य हिन्दु संगठनों द्वारा निकाली जाने वाली रैली एवं सभा के संदर्भ में ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में ईसाइ समुदाय द्वारा यह मांग की गई कि रैली व सभा में किसी भी प्रकार का भडकाउ नारे व भाषण ईसाइ समाज के विरोध में न किए जाये। जिससे जिले की साम्प्रदायिक सद्भावना बनी रहे। पिछले दिनों देश के कई स्थानों पर घटित घटनाओं को द्रष्टिगत रखते हुए उक्त रैली का मार्ग शासन स्वयं तय करे। जिससे की समुदाय में किसी भी प्रकार का भय एवं अप्रिय घटना घटित न हो। ऐसा विश्वास प्रशासन के प्रति बना रहे। यह आशा ईसाई समुदाय करता है। इसी के कारण चर्च परिसर एवं ईसाइ समुदाय के जान माल की संपूर्ण जवाबदारी प्रशासन व पुलिस प्रशासन तय करें।
साथ ही आजाद प्रेमसिंह डामोर द्वारा रैली के पुर्व में साम्प्रदायिक सदभाव बिगाडने हेतु ईसाइ समाज के विरूद्ध भडकाउ पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल की जा रही है। जबकि बिते दिनों कलेक्टर महोदय के आदेशानुसार सोशल मीडिया पर किसी भी जाति व धर्म के विरूद्ध सोशल मीडिया पर भडकाउ पोस्ट करता है यह दंडनिय अपराध है। अतः महोदय से निवेदन है कि ईसाइ समाज मांग करता है कि शासन प्रशासन स्वयं संज्ञान लेते हुए अनुशासनात्मक कार्रवाही की जाने की मांग करता है। ज्ञापन सौंपते समय जेरोम वाखला, राजु डामोर, पेट्रीक गणावा, आशीष भूरिया, मार्टिन डामोर, शीला भूरिया, सरोज स्वामी, शीला मकवाना, सुनिल भूरिया, जेम्स सिंगाडिया, माईकल डामोर विवेक मेडा व बडी संख्या में समाजजन उपस्थित थे। उक्त जानकारी डायोसिस पीआरओ राॅकी शाह ने दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here