महज 6 घंटो में हत्या करने वाले कलयुगी पत्नी व बेटे को लिया हिरासत में

1357

दिनांक 21-22.04.2022 की दरमियानी रात्री 12:30 बजे फरियादी केकडिया डामोर के बड़े भाई हकरिया के घर से झगड़े की आवाज आई तो, फरियादी केकडिया वहां पहुंचा, देखा कि भाई हकरिया ने अपनी पत्नी कालीबाई व अपने लड़के राजु से खाना मांगा तो कालीबाई व राजु ने हकरिया को खाना दिया। किंतु हकरिया ने किसी कारणवश खाना फेंक दिया। बस इतनी सी बात को लेकर राजु व कालीबाई ने हकरिया को बोला कि “तू रोज-रोज खाने की बात को लेकर हमसे झगड़ा करता रहता है, राजु व कालीबाई ने हकरिया को बोला कि आज तो तुझे जान से ही खत्म कर देते है” कहकर राजु ने हकरिया का मुँह पकड़कर दिवाल से दे मारा तथा कालीबाई ने हकरिया की लातो से मारपीट की व दोनों ने हकरिया को नीचे पटक दिया। इतने में फरियादी केकडिया ने बीच-बचाव किया तो वहां से दोनों भाग गये। फरियादी केकडिया द्वारा हकरिया को जिला अस्पताल झाबुआ ले जाया गया, किंतु उसे बचाया नहीं जा सका। जिस पर थाना कोतवाली में हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
घटना का खुलासा :-
इसी तारतम्य में थाना कोतवाली की पुलिस टीम द्वारा तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीमों का गठन किया गया। मुखबीर द्वारा सूचना मिली कि आरोपी गुजरात तरफ भागने वाले है। जिन्हे जल्द से जल्द पकड़ना बहुत जरूरी था। इस हेतु पुलिस टीम द्वारा इंदौर-अहमदाबाद हाईवे पर वृहद स्तर पर नाकाबंदी की गई। पुलिस टीम की तत्परता के कारण देवझिरी इंदौर-अहमदाबाद हाईवे पर आरोपी राजु एवं कालीबाई को पकड़ने में सफलता प्राप्त की। आज दोनों आरोपियों को माननीय न्यायालय पेश किया जावेगा।
गिरफ्तार आरोपियों के नाम :-
01. राजु पिता हकरिया डामोर निवासी नवागांव तेरू फलिया झाबुआ
02. कालीबाई पति हकरिया डामोर निवासी नवागांव तेरू फलिया झाबुआ
सराहनीय कार्य में योगदान :-
संपुर्ण घटनाक्रम का खुलासा करने में थाना प्रभारी कोतवाली निरी. संजय रावत, उनि महावीर वर्मा, उनि संतोष वसुनिया, सउनि सरदार, आर. मंगलेश, आर. आशीष का सराहनीय योगदान रहा। उक्त सराहनीय कार्य पर पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा पुरूस्कृत करने की घोषणा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here