युवक ने कलयुग में ईमानदारी की पेश करी अनूठी मिसाल। भंगार खरीदने वाला निकला फरिश्ता।

4647


युवक ने कलयुग में ईमानदारी की पेश करी अनूठी मिसाल।

वॉइस ऑफ झाबुआ

रतलाम जिले के पिपलोदा में आज के इस कलयुगी दौर में जहा पेसो के लिये इंसान अपनो के साथ ही धोखाधड़ी कर रहा है वही दूसरी ओर आज भी इतने ईमानदार इंसान बचे है जिनकी वजह से इंसानियत जिंदा है । ऐसा ही एक मामला समीपस्थ ग्राम बड़ौदा में देखने को मिला जहाँ एक व्यक्ति ने घर मे रखे सामान को भंगार के साथ सोने के आभूषण तथा नकदी भी बेंच दी।जब भंगार खरीदने वाले को इस बात का पता चला तो उसने ईमानदारी तथा नेकदिली से नगद राशि तथा सोने चांदी के सभी आभूषण संबंधित व्यक्ति को वापस लौट दिए। भंगार खरीदने का काम करने वाले गरीब व्यक्ति की इस इमानदारी की चर्चा पूरे क्षेत्र में की जा रही है।
जावरा नगर के नाना साहब मोहल्ले के निवासी काले खां भंगार खरीदने का काम करते हैं गत सोमवार को ग्राम बड़ौदा में संदीप पिता शांतिलाल राठौर के यहां से उन्होंने भंगार खरीदा था।पूरे दिन वो उसी तरह आसपास के गांवों में घूमते रहे शाम को घर ले जाकर जब उन्होंने देखा तो पाया कि ग्राम बड़ोदा से जो भंगार के डिब्बे खरीदे थे उसमे बहुत सारी नगदी व सोने चांदी के आभूषण जिनमे पायजेब, पैंडल, दाने और अन्य सामान इनकी कीमत लगभग तीन लाख से उपर है तथा लगभग 80000 रूपए के 500 के नोट उन्हें मिले।ईमानदारी की मिसाल पेश करते हुए अगले ही दिन उन्होंने पिपलोदा आकर पत्रकार ज़ियाउद्दीन कुरेशी से संपर्क कर संबंधित व्यक्ति को ढूढ कर विधायक राजेन्द्र पांडे के हाथों से सारी नगदी व जेवरात लोटा दीये। क्षेत्रीय विधायक द्वारा काले खां की ईमानदारी को देखकर फुल माला पहनाकर सम्मान किया गया। बताया जा रहा है की यह आभूषण तथा नकदी घर में भंगार के साथ छिपाकर रखी गई थी तथा अनजाने में इसे भंगार के साथ तौल दिया था। भंगार बेचने वाले संदीप के परिवार ने काले खां का आभार व्यक्त किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here