एक साथ बस में सवार सारे बाराती समा जाते मौत के गाल में

3674

सो गया है आरटीओ विभाग ..?

यह घटना पड़ सकती थी भारी

उमेश चौहान

अभी अभी कल्याणपूरा नगर में होते हुए एक बस गुजरी जिसमे बस के अंदर तो लोग बैठे हुए थे साथ ही बस की छत पर बड़ी संख्या में महिलाए पुरीष ओर बच्चे बैठे हुए थे बस नगर के अंदर होते हुए निकली जहां पर बिजली के तार लटक रहे थे जहां कुछ देर तक तो बस फसी रही फिर बस कें उपर बैठे लोगों ने अपने हाथों तार उठाकर ऊपर किया और बड़ी मुश्किल से बस वहां से निकाली ऐसे में वहाँ अगर तार टूट जाता तो कोई बड़ा हादसा हुआ वाजिब था जिसमे सेकड़ो लोग काल के गाल में समा जाते …..आखिर इसका जिम्मेवार कोन क्या आरटीओ विभाग सिर्फ ट्रैफिक चालान के नाम पर उगाही करता रहेगा ईआ आम जनता को समझाईश भी देगा ……या ऐसे बस वालो पर कार्यवाही करेगा …..? सवाल जनता की जान सर खिलवाड़ का है आखिर जवाबदारी से बचना कहा तक उचित है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here