एक ओर युवा ने गांव का नाम रोशन किया आर्मी की ट्रैनिंग पूरी करके गांव लोटा

609

 

 

मुकेश कुमावत

पिपलोदा तहसील के रियावान समीपस्थ गांव नवेली में 13माह की ट्रेनिंग के बाद लौटे सेना की ट्रेनिंग लेकर जवान का जोरदार स्वागत हुआ गाँव में पहुंचते ही लाेगाें ले पहले माला पहनाकर उनका स्वागत किया।गाैरांवित करने वाला यह पल नवेली नगर प्रवेश द्वार पर देखने काे मिला। सैकड़ों युवा अपने जवान साथी के इंतजार में सुबह से ही खेड़ा पती हनुमान मंदिर पर खड़े हाे गए थे। उनके आने पर सबसे पहले भारत माता का जयघोष हुआ। इसके बाद सभी ने फूलों से स्वागत किया।बता दे यशदीप सिंह डोडीया एक साधारण परिवार के बेटे है पापा किसान है भारतीय वायु सेना में तकनीकी पद पर चयन हुआ था जिसमें उन्होंने वायु सैनिक प्रशिक्षण केंद्र चेन्नई तमिलनाडु मैं अपना प्रशिक्षण पूर्ण करके अपने गांव लोटे जहा युवाओं ने फूल माला आतिशबाजी, ढोल नगाड़ों से सभी गांव वासियों ने जोरदार स्वागत किया।यशदीप सिंह ने बताया की मेरा बचपन से सपना था की मे देश की सेवा करुंगा।(इंदर सिंह डोडीया जवान के पापा) ने बताया की दृंढ़, संकल्प और कडी़ मेहनत के कारण मिला मुकाम इसका बस एक ही लक्ष्य था कि देश की सेवा करना है कड़ी मेहनत, लगन के कारण इसका भारतीय वायु सेना में चयन हुआ है।(नारायण सिंह चिकलाना) देश सेवा करने वाले बड़े भाग्यशाली होते हैं परिवार हो या गांव गौरवशाली वहीं होते है जहां से देशसेवा करने वाले निकलते हैं व्यक्ति को अपनी काबिलियत महान बनाती है और काबिलियत कठिन परिश्रम व त्याग से मिलती है ऐसे लोग गांव के गौरव होते हैं शासकीय सेवा तो बहुत सारी होती हैं लेकिन जोखिम भरी जगह सेवा करना बड़ी अहमियत का काम है ऐसी जगह त्याग और कड़ी मेहनत से ही पहुंचा जा सकता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here