यूक्रेन से अपने गांव रम्भापुर पहुँचे रोशन का गांव के लोगो ने किया स्वागत

112

मेघनगर। पश्चिम मध्यप्रदेश का वनवासी बाहुल्य झाबुआ जिला उसी जिले में मेघनगर तहसील के छोटे से गांव रंभापुर व आसपास के रहवासियों को यूक्रेन व रूस जैसे मसलें से ज्यादा लगाव नहीं और ना ही गांव के कर्षी परिवार ज्यादा यह जानते कि किस से किसका यूद हो रहा ‌हैं।पर हां यह गांव भी मध्यप्रदेश में तब सुर्खियों में आया जब यहां का बेटा परिवार से दूर पढाई मेडिकल शिक्षा हेतु विदेश गया था। और सबकुछ ठीक चल रहा था किन्तु रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध छिड़ जाने से परिवार के लोगो हाल बेहाल हो गए थे। गांव का रोशन पिता देवीसिंह दातला यूक्रेन में घिर गया था। उसने व माता पिता ने विडियो कालिंग से विडियो से बात व पीड़ा मध्यप्रदेश भारत सरकार से साक्षा की। आपरेशन गंगा से विद्यार्थियों को लाने में सफल हुआ जिले के भी विद्यार्थी आ रहे। आज़ मोदी जी के प्रयास व शिवराज सिंह जी पहल से यूक्रेन से लौटने पर रोशन की अगवानी मे पूरा गांव एकत्र हुआ और भव्य पुष्प मालाओ से स्वागत। तो वही माता तारा की खुशियों से आंसू छलकने लगे। पूरा गांव बेटे के लिएं प्रतीक्षा रत था। विदेश आया रोशन ने राम मंदिर पहुँचे ओर भगवान श्री राम जी और सीता माता के दर्शन किए व सभी का आशीर्वाद लिया। रोशन दातला यूक्रेन के डीनप्रो से एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए युक्रेन गए हुआ था लेकिन रूस व युक्रेन के बीच युद्ध छिड़ जाने से वे अनेक कठिनाइयों का सामना करते हुए अपने वतन भारत लौट आया।भारतीय दूतावास से मदद मिल सकी। भारत सरकार का शूक्रिया अदा किया वही अपने अन्य भारतीय स्टूडेंट्स की मदद करने का निवेदन भी किया। गांव में आने की खुशी जितनी उनके माता-पिता को हुई उतनी ही गांव के हर नागरिक को हुई। गांव वासियों,अपना श्याम परिवार, पत्रकार संघ रंभापुर व चौकी प्रभारी रंभापुर नवल सिंह बघेल ने पुष्प मालाओं के साथ स्वागत किया व मिठाई खिलाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here