अस्पताल में पदस्थ विमला जो अपने आप को समझती है अस्पताल का मालिक।  राम भरोसे चल रहा है प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र  कोई भी जिम्मेदार आफिसर नही रहता मौजूद।  स्वास्थ्य विभाग क्यों मौन धारण बैठा है क्यों नहीं कर रहे हैं मैडम पर कार्रवाई

451

अस्पताल में पदस्थ विमला जो अपने आप को समझती है अस्पताल का मालिक। 

राम भरोसे चल रहा है प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र

 कोई भी जिम्मेदार आफिसर नही रहता मौजूद। 

स्वास्थ्य विभाग क्यों मौन धारण बैठा है क्यों नहीं कर रहे हैं मैडम पर कार्रवाई

 

 

करवड़ से विनोद शर्मा

कारवड़ का स्वास्थ्य केंद्र जो राम भरोसे चल रहा है इस स्वास्थ्य केंद्र में कोई भी जिम्मेदार अधिकारी वह डॉक्टर नहीं है ऐसा ही वाकय बुघवार शाम 6:30 7:00 बजे का जोकि करवड़ पंचायत के अंतर्गत आने वाला बारीगांव का हे एक डिलीवरी केस आया जिसको बिना देखे ही बिना जांच किए ही उस डिलीवरी केस को पेटलाद के लिए रेफर कर दिया उनके साथ में आए परिजन डॉक्टर विमला सिंगाड के कमरे पर बुलाने गये पर मैडम ने मना बोल दिया की अभी मैं नहीं आ सकती इसको लेकर पेटलावद सिविल हॉस्पिटल लेके चले जाओ जिसके बात परिजन ने एंबुलेंस को बुलाकर उसी वक्त करवड़ हॉस्पिटल से डिलीवरी केस को पेटलाद के लिए ले जाया गया विमला सिंगाड अपने आप को क्या समझती हे जो भी डिलेवरी केस आता हे उनसे वह छुट्टी करने के 700 रु लेती हे आखिर यह कब टक चलेगा इसकी सूचना पेटलावद BMO चोपडा को कितनी बार दे दी उसके बाद भी मेठम के उपर स्वास्थ विभाग मेठम के उपर कार्यवाही क्यू नही करता उनके साथ आये परिजन का कहना हे की
मैं मैडम को बुलाने उनके कमरे पर गया था पर मैडम ने आने से सख्त मना कर दिया कि मेरा पेट दुख रहा है मेरी तबीयत खराब है मैं नहीं आ सकती हूं आप इसको लेकर पेटलाद चले जाओ बिना जांच किए ही मैडम ने कुछ डिलीवरी केस को एक पर्ची बनाकर पेटलावद सिविल हॉस्पिटल में रेफर कर दिया

बी एम ओ चोपडा से बात हुई तो उनका कहना हे की-:

मे इस मामले को दिखवाता हू जेसा भी होगा हम कार्यवाही करेंगे

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here