कौन है वो डाॅक्टर दिनेश….? जो अधिकारियों पर बेवजह बना रहा है दबाव..! और शासन की महत्वपूर्ण योजना का टेंडर अपने चहिते को दिलवाकर योजना पर फेर रहा पलीता

1749

आओ इसका पता लगायें….?

झाबुआ। स्वास्थ्य विभाग की गाथा भी बडी निराली है… यहां हर कोई कागजों में हेराफेरी कर लक्ष्मी यंत्रों की चाह रखता है… न काम होगा और न ही सामान सप्लाय बस कागजों में हेराफेरी होगी और फिर अपनी जेबे गर्म होगी की तर्ज पर यहां काम चलता है। यहां उपर बैठे आकाओं को सप्लायर पसंद आना चाहिए और उससे अच्छे लक्ष्मी यंत्रों की प्राप्त होनी चाहिए नही तो कोई ईमानदारी से भी काम करें उसे हटाने के लिए एडी चोटी को जोर लगा देते है…। सुनने में आ रहा है और सुत्रों का भी कहना है स्वास्थ्य विभाग में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में संयोजक राज्य हिमोग्लोबिन पैथी की जिम्मेदारी संभाल रही डाॅक्टर अर्चना मिश्राजी के सलाहकार दिनेश चतुर्वेदी जी इन दिनों अधिकारियों को बेवजह परेशान कर रहे है। तो आओ हम सब मिल कर पता लगाते है कौन है ये डाॅ दिनेश चतुर्वेदी जो शासन की महत्वपूर्ण योजना सिकलसेल जैसी गंभीर बीमारी की स्क्रेनिंग और उन्हे दिए जाने वाले कार्ड को भ्रष्टाचार की भेंट चढाने में लगे हुए है।
गलियारों की चर्चा है कि डाॅक्टर दिनेष चतुर्वेदी अपनी पसंद के व्यक्ति को ये टेंडर दिलवाने के लिए बहुत जोर आजमाइश कर रहे है। पहले जिले के अधिकारियों पर दबाव बनाकर उनकी पसंद की कंपनी की शर्तो अनुसार निविदा डालवाते है फिर उन्हे काम दिए जाने हेतु भी दबाव बना रहे है। सुत्रों का तो यह भी कहना है कि कोई आलोक पांडेय नाम का व्यक्ति है जिसके लिए डाॅक्टर दिनेश चतुर्वेदीजी बहुत प्रयास कर रहे है।
सुना है कल राज्यपालजी के दौरे के दौरान डाॅक्टर दिनेश चतुर्वेदी स्वास्थ्य विभाग के जिले के आधिकारियों को उक्त निविदा के लिए डाराते हुए भी नजर आए। इतनी साफ सुथरी छवि की महिला डाॅक्टर अर्चनाजी मिश्रा के इस तरह के सलाहकार उनकी छवि धुमिल करमें में कोई कसर नही छोड रहे है। जल्द ही हम डाॅक्टर दिनेश की आॅडियों भी आपसे साझा करेंगे। तो आओ हम सब मिल कर पता लगाते है कौन है ये डाॅक्टर दिनेशजी तो इनती बडी योजना पर पलिता फेरने में लगे हुए है आपको पता चले तो हमें जरूर बनाईयेगा और हमें पता चलेगा तो हम आपकों बतायेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here