प्राइवेट स्कूल के म्यूजिक टीचर ने की छात्रा के साथ छेड़छाड़ अश्लील हरकतें

8461

 

 

वॉइस  ऑफ  झाबुआ

मेघनगर के निजी स्कूल में कक्षा 9 वी में पढ़ने वाली छात्रा के साथ म्यूजिक टीचर की छेड़खानी का मामला सामने आया है। मामला मेघनगर की निजी स्कूल का है जिसमें पढ़ने वाली बालिका के साथ स्कूल के म्यूजिक टीचर ने छेड़खानी की है। अपने साथ हुई घटना की जानकारी पीड़ित छात्रा ने अपने परिजनों को दी जिसके बाद परिजनों ने मेघनगर थाने पर पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई है फिलहाल पुलिस द्वारा शिकायत दर्ज कर ली गई है और दोनों ही पक्षों को थाने पर बुलाया गया है।

मैं ग्राम गडुली रहती हूँ। तथा कक्षा 09 वी बाफना स्कूल मेघनगर में पढाई करती हूँ। मेरी जन्म दिनांक 18 12:2008 है। मैं अपने घर रोजना स्कूल बस से बाफना स्कूल मेघनगर पढाई करने आती हूँ। मेरी स्कूल में शैलेन्द्र गोजा पिता प्रकाश चन्द्र निवासी स्नेह नगर मदसार हाल मुकाम बाफना कार्लानी मेघनगर का म्यूज़िक टिचर है जो हमारी क्लास को म्युजिक सिखाता था प्रत्येक बुधवार त गुरुवार को क्लास खत्म होने के बाद म्युजिक कि कक्षा रहती थी। में मेरी क्लास कि मॉनिटर हुँ। मेरा | म्युजिक टिचर मुझसे बोलता था कि तुम क्लास मॉनिटर हो मैं तुम्हे अलग से म्यूजिक सिखाउगा कहकर मुझे क्लास खत्म होने के बाद रुकने के लिए बोलता था व म्युजिक सिखाने के बहाने स्कूल के म्युजिक रूम में भी मेरे साथ बुरी नियत से छेड़छाड़ करता था स्कूल में उसने मेरे साथ कई बार बुरी नियत से हाथ पकड़ कर छेड़छाड़ कि है और किसी को बात बताने पर जान से मारने कि धमकी देता था। मेरे म्युजिक टिचर शैलेन्द्र ने दिनांक 13.10:2022 को मुझसे बोला कि मेरे रूम पर आना और घर वालों को बोल देना कि मैं फ्रेंड के घर जा रही हूँ। फिर में उसके रूम पर गई तो शैलेन्द्र ने बुरी नियत से मेरा हाथ पकड़ा व मेरे साथ छेड़छाड़ करने लगा तथा बोला कि यह बात तेरे घर वालो को बताई तो तुझे व तेरे परिवार वालो को जान से खत्म कर दुगा बाद शैलेन्द्र नै मुझे ऐसी धमकी देकर कई बार अपने रूम पर बुलाया और मेरे साथ बुरी नियत से छेड़छाड़ कि। दिनांक 07.01.2023 को भी शैलेन्द्र ने अपने रूम पर बुलाया व मेरे साथ बुरी नियत से हाथ पकड़ कर छेड़छाड़ कि व मेरे कपड़े भी फाड़ दिए और बोला कि किसी को बताया तो तुझे जान से मार दूंगा बाद मैने हिम्मत कर घटना कि बात मेरे पिताजी व माँ को बताई व आज दिनांक को उनको साथ लेकर रिपोर्ट करने आई है। रिपोर्ट करती हूँ। कार्यवाही कि जावे।

अब सवाल यह भी खड़ा होता है कि जब इस तरीके के शिक्षकों को स्कूल में रखा जाएगा। तो फिर किस तरीके से स्कूल प्रबंधक स्कूल में पढ़ने वाले अन्य बालिकाओं की सुरक्षा की जवाबदारी ले पाएंगे। सिर्फ मामला दर्ज होने से इसका हल नहीं हो पाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here