इन सटोरियों पर कब कसोगे लगाम…!

1081

 

@वॉइस   ऑफ   झाबुआ

झाबुआ शहर में सट्टे का कारोबार जोरशोर से चल रहा है.. लेकिन इन पर लगाम कसने वाला कोई नही है.. नगर में तो ये जनचर्चा है कि यहाँ राम नाम जपना पराया माल अपना की तर्ज़ कर काम होता है.. जो देगा वो सुरक्षित जो नही देगा उस पर कारवाई.. सूत्रों की माने तो नगर ने बड़े बड़े सटोरिये है.. जो थाना प्रभारी के चहेते एक ख़ाकी वालों के सरक्षण में फल फ़ुल रहते है… सूत्र बताते है की नगर में हुडा, मारुति नगर, पानी की टंकी के पास, राजवाड़ा, शनिमंदिर उत्कृष्ट मेदान, सट्टा गली, जेल के पीछे, कुम्हारवाड़ा में ज़ोरशोर से चल रहा है.. सूत्रों का कहना है.. नगर में बड़े बड़े खाईवाल है जिन पर पुलिस कभी कोई कारवाई ही नही करती है छोटे मोटे को उठा कर.. कारवाई कर इतिश्री कर लेती है.. नम , कालम, विक्की, आजु, मोहसिन , आरिफ़, साजिद जेसे बड़े सटोरियों पर कारवाई करती ही नही है, इन्होंने गाँव गांव में अपनाक़ब्ज़ा जमाए हुवे है लेकिन इन पर इनकी कोई कारवाई ही नही होती है.. नगर में अवेध मास, नशीले प्रदार्थ, जुआ, अवेध शराब आदि का कारोबार भी धड़ल्ले से चल रहा है मगर इन पर किसी की कोई नज़र नही है.. सूत्र ये भीबताते है बड़े पशु मांस, आवेध शराब, नशीले प्रदार्थ जुआ सट्टे वाले से एक छोटे सतर का पुलिस कर्मी सारी बंदी लेकर आता है.. जो अगले अंक में आपको हम बताएँगे… किस तरह से पाड़े के मांस वालों को सरक्षण दिया जाता है… जल्द ही… जनचर्चा हे की भाजपा जिला अध्यक्ष भानू भूरिया के मित्र बताए जाते है थाना प्रभारी इसलिए वरिष्ठ अधिकारी भी कुछ नही कर पाते है…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here