गुजरात राज्य में राष्ट्रीय राज्य मार्ग का निर्माण जोरो पर ।मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार और उसके विधायक सांसद नींद में ।

781

अलीराजपुर जिले के जनप्रतिनिधि सिर्फ टेंडर और ठेकेदार को ठेका दिलाकर अपनी तिजोरियां भर रहे है ।

अलीराजपुर जिले की जनता जिले से बाहर गुजरात में दिहाड़ी करने को मजबूर ।

दिलीपसिंह भूरिया

गुजरात राज्य में राष्ट्रीय राज्य मार्ग 56 का निर्माण कार्य बीते एक माह से चालू है और आधा हिस्सा लगभग पूर्ण होने को है ।क्या राष्ट्रीय राज्य मार्ग 56 जयपुर खंडवा अलग अलग राज्य में अलग अलग लोगो या अलग अलग सरकार और उनके नेता अपने अपने विवेक से बनायेगे ।क्या जनता की समस्याओं का कुछ भी ख्याल नही है गुजरात के दाहोद से मध्यप्रदेश की सीमावर्ती गांव काकड़बारी तक बॉर्डर एरिया तक राष्ट्रीय राज मार्ग का निर्माण पुलिया को छोड़ लगभग पूर्ण होने को है और उस पर बेहतर आवागमन के लिए शानदार तरीके से बनाया जा रहा है लेकिन उसके विपरीत मध्यप्रदेश के अलीराजपुर जिले के ग्राम काकड़बारी से आम्बुआ तक की सड़क खराब और दयनीय स्थिति में है लेकिन जिले के सांसद और उनके प्रतिनिधियो को तो जिले में सप्लाय और ठेकेदार को ठेका दिलवाकर ही कमाई करनी है जनता चाहे जिए या मारे उनको क्या जिले का राष्ट्रीय राज्य मार्ग 56 काकड़ बारी से आम्बुआ तक खराब हो रहा है इस सड़क के दोनो किनारे 1 से 2 फिट तक के गहरे छोटे बड़े गड्डे होने से आम नागरिकों का इस सड़क से निकलना दुभर हो गया है कई बार सड़क के दोनो ओर से आने वाले वाहन रोजाना आपस में गाड़ी कोन पहले सड़क से नीचे उतारे यही सोचते सोचते गाड़ी का ड्राइवर गाड़ी को आपस में ही टकराकर अपनी अपनी गाड़ियों का नुकसान कर अपनी अपनी जान और परिवार के लोगो की जान भी जोखिम में डाल देते है ।और कई बार दुर्घटनाएं इतनी बड़ी और जबरजस्त होती है जिससे कई बार जनहानि तक हो जाती है जिसकी भरपाई कोई भी सरकार या सत्ता नही कर पाती।जिले में विधायक महोदय अपनी बीमारी से ग्रसित होकर अपना इलाज कराने को विवश है लेकिन उनके द्वारा नियुक्त जनप्रतिनिधि भी अपनी जवाबदारी सही तरीके से नही निभा रहे है और निभा भी रहे है तो जिले में कहा किस विभाग में सप्लाय और ठेका किसे दिलाकर अपनी तिजोरी के लिए लक्ष्मी जी को अपने घर लाने के अलावा कोई दूसरा काम उनको दिखाई ही नहीं देता ।और तो और जिला प्रशासन जब भी इस रोड से गुजरता है तो अपनी महंगी गाड़ियों के कारण इन गड्ढों को देख ही नही पाता जिससे उनको आम जनता की परेशानियों से कोई लेना देना ही नही है ।जनता जब भी किसी को इसकी शिकायत भी करे परंतु जिला प्रशासन और उसके अधिकारी और कर्मचारियों की नींद तक नही उड़ती ।तो आम जनता भी बेबस होकर जैसे हालात है उसी में जीने को मजबूर है ।।देखते है जिला प्रशासन कब इस रोड का निर्माण करवाने के लिए जिले के सांसद और विधायक और जनप्रतिनिधियों को बोलता है या उसके लिए स्वयं जिला प्रशासन कार्य करता है ।।आगे वॉइस ऑफ झाबुआ के अगले अंक में ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here