एक कदम स्वच्छता की ओर..प्रधानमंत्री मोदी जी का सपना कैसे होगा साकार,स्वच्छ भारत अभियान के स्लोगन के सामने ही गंदगी का अंबार.,एक और गंदगी से बीमारियों का भय, तो दूसरी ओर कोरोना भी दिख रहा सामने.

312

पीयूष राठौड झकनावदा

झकनावदा– ग्राम पंचायत झकनावदा के द्वारा बनाया गया स्थानीय बस स्टैंड पर सार्वजनिक शौचालय जिसके बाहर दीवार पर बड़े बड़े अक्षरों में गांधी जी का फोटो बनाया गया व दीवाल पर स्लोगन लिखे गए स्वच्छ भारत अभियान। लेकिन यह स्लोगन केवल पढ़ने मात्र से ही अच्छा लगता है स्थानीय बस स्टैंड पर बने सार्वजनिक शौचालय के अंदर की स्थिति देखने के बाद कोई अंदर जाना भी पसंद ना करें। इतनी भयानक गंदगी है व इस गंदगी के साथ मच्छरों का भी बसेरा अंदर ही है। जिससे कोई बड़ी जानलेवा बीमारी भी पनप सकती है। कहने मात्र का सार्वजनिक शौचालय है लेकिन स्थानीय बस स्टैंड पर उपस्थित यात्री भी इस शौचालय का उपयोग करने में असमर्थ है।
स्लोगन के सामने गंदगी का अंबार
इस और ग्राम पंचायत के किसी भी जवाबदार का कोई ध्यान आकर्षित नहीं है। स्थानीय बस स्टैंड की शोभा कहे जाने वाले मुख्य चौराहे पर ही सार्वजनिक शौचालय के बाहर गंदगी का अंबार लगा हुआ है। बस स्टैंड पर रहने वाले रहवासियों का कहना है कि हमारे द्वारा मौखिक रूप से कई बार जवाब दरों को इस गंदगी को हटाने को लेकर अवगत भी करवाया गया लेकिन इस ओर किसी भी जवाबदार का कोई ध्यान आकर्षित नहीं है।
इनका कहना है –
1).ग्राम पंचायत के पास स्वच्छता के नाम पर पर्याप्त पैसा आता है लेकिन वह उसका सदुपयोग नहीं करती है। स्थानीय बस स्टैंड के अलावा हाट बाजार स्थित सार्वजनिक शौचालय में भी यही हाल है।
युवक ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष ठा. जगपाल सिंह राठौर
————-
2). मजदूर नहीं मिलने से यह समस्या उत्पन्न हुई है। एक दो रोज में मजदूर मिलते ही इस समस्या का हल कर दिया जाएगा व शौचालय को साफ सुथरा किया जाएगा।
विनोद देवदा, सचिव ग्राम पंचायत झकनावदा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here