पुरानी परिषद ने किया 70 लाख का घोटाला सच आया सामने

1585

@वॉइस   ऑफ   झाबुआ

 पिछले 05 वर्षों में हमारे नगर का विकास तकरीबन  ठप्प हो चुका है और जनकल्याण  तथा नगर विकास की मात्र बाते ही हुई काम तो रत्तीभर नहीं हुआ  जिसका मुख्य कारण राजनीति के परिपक्व  भर्स्ट  खिलाड़ी  मोटाभाई एन्ड कम्पनी रही  ।

  ओर इन्हीं कारणों से नगर की जनता ने इस बार नगरविकास की बागडोर का जिम्मा  नारी शक्ति को सोपा है ।

नव परिषद ओर  सीएमओ से आस

नगरवासियों ने इस बार जिन  नेताओं को पार्षद के रूप में चुनकर भेजा है उन्होने  ओर प्रशाशनिक दक्षता में निपुण सीएमओ आशा भण्डारी ने अपने पदभार ग्रहण करने साथ ही ।पुरानी परिषद में हुये बड़े गोलमाल का पर्दाफाष किया है।

खातों का किया मिलान

सीएमओ श्रीमती आशा भण्डारी ने एक जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने पदभार ग्रहण के बाद नगर परिषद के अकाउंट का मिलान करवाया और  सभी बैंकों की स्टेटमेंट लेकर मिलान करवाया गया जिसमें पुरानी परिषद के कार्यकाल की 70 लाख 82 हजार 737 रुपये की राशि का अंतर  ओर हिसाब के मिलान में अंतर पाया  गया है ।जिसकी लिखित सूचना सीएमओ द्वरा वरिष्ठ अधिकारीयो को दे दी गयी है ।

जनता को छला

इस ऑडिट से सीधा मामला साफ हो गया है कि पुरानी परिषद ओर विशेष रूप से अध्य्क्ष मनोहरलाल भटेवरा ओर उनके समय के सीएमओ ने 70  लाख 82 हजार 737  रुपये की राशि का फर्जीवाड़ा ओर घोटाला करते हुये जमकर भर्ष्टाचार किया है । और नगर की जनता की मेहनत की कमाई से भरे हुये टेक्स का दुरुपयोग करने के अलावा नगरवासियों को छला है ओर खुद के ओर परिवार के वारे न्यारे किये है।

क्या होगी कार्यवाही

हमने लगातार पिछले 03 वर्षों से मनोहरलाल भटेवरा के कार्यकाल की खबरों को उठाया था। जिसकी प्रमाणिकता आज सामने है ।  हालांकि कल सीएमओं ने अकाउंट का चार्ज दूसरे कर्मचारि को सौप  दिया है ।अब देखना यह है कि भर्स्ट मोटाभाई ओर उनसे लाभ लेने वालों पर कोई कार्यवाही होती है या नही ।?

वरिष्ट को भेजी जानकारी
इस सम्बंध में सीएमओ आशा भण्डारी ने बताया कि पूरे मामले की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दे गई है वे जैसा निर्णय लेंगे उसी प्रकार से आगे कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here