आखिर कब लेंगे नेता अधिकारी इस मार्ग की सुध

307

 

पियूष राठौड झकनावदा

झकनावदा – पेटलावद राजगढ़ मार्ग स्थित स्थानीय बस स्टैंड पर पता ही नहीं चलता कि सड़क में गड्ढे है या गड्ढे में सड़क। इस और किसी भी जनप्रतिनिधि या अधिकारी का कोई ध्यान आकर्षित नहीं है। उक्त मार्ग पूरी तरह जर्जर हो चुका है। उक्त मार्ग पर शासकीय उत्कृष्ट बालक प्राथमिक विद्यालय,ग्राम पंचायत कर्यालय, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, शासकीय कन्या शाला जैसे कई विभाग स्थित है। वह आए दिन इन बड़े-बड़े गड्ढों के कारण कई बार वाहन चालकों को इस मार्ग से बाहर निकालने में बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है तो कई दोपहिया वाहन चालक रोड जर्जर होने के कारण दुर्घटना के शिकार भी हो जाते हैं।

*इस गांव से सौतेला व्यवहार क्यों?*
ग्रामीणों का आरोप है कि चुनाव नजदीक आते ही क्षेत्र के नेता जनप्रतिनिधि हमारे मताधिकार को याद दिलाने के लिए सुबह-शाम हमारे चक्कर लगाते हैं। हमारी समस्याओं को भी सुनते हैं लेकिन चुनाव जीत जाने के बाद इस गांव की ओर या इस गांव के विकास की ओर किसी भी जनप्रतिनिधि का कोई ध्यान आकर्षित नहीं होता है। हमारे द्वारा कई बार जनप्रतिनिधियों को इस मार्ग के लिए अवगत भी करवाया गया लेकिन चुनाव के कई साल बीत जाने के बाद भी आज तक यह रोड जैसा का जैसा है।
*प्रधानमंत्री सड़क योजना एवं लोकतांत्रिक की विभाग में उलझी रही 1 वर्ष तक सड़क*
प्रधानमंत्री सड़क योजना के अंतर्गत ग्राम झकनावदा की डामरीकरण सड़क प्रधानमंत्री सड़क योजना से लोकतांत्रिक की विभाग कार्यवाही में 1 वर्ष पूर्ण हो गया जिसके कारण से नाही सड़कों का पैच वर्क किया गया और ना ही सड़के सुधारी गई काम के नाम पर महज डामरीकरण सड़कों पर लाखों रुपए खर्च कर मोहर्रम डालकर कार्य कर लिया गया जिसका खामियाजा पेटलावद से झकनावदा होकर राजगढ़ जाने वाले वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा है रहवासी इलाकों में बस स्टैंड स्थित दुकानदार धूल के गुब्बार से परेशान होते रहते हैं सूत्रों की माने तो लोक यांत्रिकी विभाग को उक्त सड़क प्रधानमंत्री सड़क योजना द्वारा सुपुर्द कर दी गई है किंतु उक्त सड़क की और अधिकारियों का ध्यान आकर्षित नहीं है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here