रतलाम की तर्ज पर अलीराजुर पुलिस भी दे रही है सटोरियों को संरक्षण तभी तो साढ़े 4 लाख की रिश्वत देने का यूं ही नही कहते सटोरिये

3442

 

वॉइस ऑफ झाबुआ

अंको के खेल में यूं ही नही लोगों के घर बर्बाद हो रहे है.. एक बार कोई इस दलदल में फंसा.. या तो वो पूरा बर्बाद होगा या फिर उसे आत्म हत्या करने पर मजबूर होना पड़ेगा… मगर पुलिस उस ओर ध्यान ही नही देती.. सुना है इन घर उजड़ने वालो से ही इनका परिवार पलता है.. सुनने में आ रहा है ऐसे ही कुछ अलीराजपुर पुलिस बोरी में बड़े पैमाने पर चल रहे सट्टे जुवे की टेबल ओर तितली भमरे चलाने वालों को संरक्षण दे रही है.. सूत्रों का कहना है बोरी जलाल जो इसका मुख्य सरगना है.. जिसके साथ राकेश… भय्यू ओर शाहरुख शामिल है.. वही जलाल का साडू खलनायक भी इसमे शामिल है… जलाल का ये काला कारोबार जोबट में भी फैला हुआ है अब इनकी नजर बोरी के लोगो को लूटने के लिए पड़ी है… सूत्रों का यह भी कहना है कि ये लोगो को ये कहते है कि sdop के मार्फत हमने sp से साढ़े 4 लाख में सेटिंग की है.. इस लिए हमारा कोई कुछ नही कर सकता.. इस संबंध में अलीरापुर पुलिस अधीक्षक ओर जोबट sdop को भी शिकायत सटोरियों के नाम जगह सहित की जा चुकी है मगर आज इन आरोपियों तक पुलिस पहुच ही नही पाई.. लगता है क्षेत्र में जो जनचर्चा चल रही है कही वो सही तो नही… अब देखना यह है ये सटोरिये पुलिस के हत्थे चढ़ते है या नही.. जनचर्चा यह भी है कि ये सटोरिये पुलिस की छवि धूमिल करने के बाद भी पुलिस द्वारा कुछ नही करना ऐसे लगता है रतलाम में जिस तरह सटोरियों को पुलिस सरंक्षण दे रही है उसी तर्ज पर अलीराजपुर पुलिस काम कर रही है। जल्द ही अगला अंक…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here