चंद्र शेखर आजाद नगर परिषद भाभरा और भाजपा नगर परिषद के पार्षद तालाब सफाई फोटो खिंचवाने के लिए करते है । नगर का एक मात्र तालाब जलकुंभी से भरा पड़ा है ।सफाई के नाम पर सिर्फ नौटंकी  इस वर्ष बारिश भी कम हुई है तालाब पूरी रीति से भरा भी नही ।

162

चंद्र शेखर आजाद नगर परिषद भाभरा और भाजपा नगर परिषद के पार्षद तालाब सफाई फोटो खिंचवाने के लिए करते है ।

नगर का एक मात्र तालाब जलकुंभी से भरा पड़ा है ।सफाई के नाम पर सिर्फ नौटंकी 

इस वर्ष बारिश भी कम हुई है तालाब पूरी रीति से भरा भी नही ।

दिलीपसिंह भूरिया 

चंद्र शेखर आजाद नगर भाबरा नगर का एक मात्र तालाब आज नगर परिषद की नाकामयाबी का गवाह बन रहा है और अपने अंदर गंदगी को और जलकुंभी को समेट कर चुपचाप आसू बहा रहा है कई बार सीएम ओ साहब को मौखिक एवं फोन लोगो ने बताया फिर भी इसकी सफाई का कोई ठोस उपाय नहीं किया और इसकी सफाई के लिए किसी भी प्रकार की कोई भी व्यवस्था नहीं की । नगर परिषद के चुनाव हुवे कई दिन बीत गए है और भाजपा ने उनके नेताओ और पार्षदों सहित चुनावी घोषणाएं और वादे याद है या भाजपा पार्टी में केंद्र के नेता जैसे जुमले फेकने में माहिर है उसी प्रकार आजाद नगर के भाजपा के नेता और पार्षदों ने भी जुमले फेंके ।अभी दो से चार दिन पहले ही नगर परिषद ने तालाब सफाई करने की नौटंकी कर नगर के नगर परिषद उपाध्यक्ष और नगर परिषद सीएमओ ने पोर्टलों और समाचार पत्रों में शानदार खबरे चलवाई लेकिन तालाब की सफाई पूर्ण नही ।इस तालाब की सफाई बहुत जरुरी है जिससे गर्मी में तालाब में पानी रह रहे जिससे आसपास के पालतू जानवरों को और जंगल से वन्य प्राणियों को पीने का पानी मिलता रहे ।साथ ही नगर के जल स्तर को भी प्रभावित नही कर सके ।लेकिन नगर परिषद अध्यक्षा और पूरी नगर परिषद और भारतीय जनता पार्टी के कुर्ता छाप नेताओ की नींद अब चुनावी समर के बाद टूटे तो जनता और नगर के तालाब की दुर्दशा होने से बचे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here