राज्यस्तरीय मोबाइल लूट गिरोह का पर्दाफाश

888

 

@Voice  ऑफ  झाबुआ

01. दिनांक 28.10.2022 की शाम को फरियादी शिवम रविदास यातायात पार्क के पास पुलिस पेट्रोल पंप के सामने झाबुआ रोड से पैदल-पैदल आफिस जा रहा था, तभी पीछे से दो अज्ञात बदमाश मोटर सायकल से आये और फरियादी का आईटेल कंपनी का मोबाइल लूटकर भाग गये। जिस पर थाना कोतवाली में लूट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
02. दिनांक 30.10.2022 की शाम को फरियादी जतिन सोनी अपने घर से शिवाजी चौक जा रहा था। शिवम चौक के पास एक मोटर सायकल पर दो लड़के आये और मोटर सायकल के पीछे की सीट पर बैठे व्यक्ति ने फरियादी के हाथ से सेमसंग गेलेक्सी एम32 मोबाइल छिन लिया और मोटर सायकल से जोबट रोड़ तरफ भाग गये। जिस पर थाना राणापुर में लूट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
03. दिनांक 07.11.2022 की रात्री 20:00 बजे फरियादी राजेश चारेल पीजी कॉलेज होस्टल झाबुआ से अपने दोस्त से मिलकर राजवाड़ा मोबाइल चलाते हुए आ रहा था। जैसे ही अंबे माता मंदिर के पास पहुंचा की राजवाड़ा तरफ सामने से एक मोटर सायकल पर दो अज्ञात व्यक्ति आये और फरियादी से रेड्मी Y7 मोबाईल लूटकर भाग गये। उसी समय एक लड़की का ब्लु कलर का INFINX HOT 10 कंपनी का मोबाइल लूटकर भाग गये। जिस पर थाना कोतवाली में लूट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
04. दिनांक 28.10.2022 की रात्री में फरियादी शेलु खराड़ी रेसीडेंसी कालोनी कॉलेज रोड़ झाबुआ में चौकीदारी कर रहा था। वह अपना Redmi कंपनी का मोबाइल बाहर खाट पर रखकर कालोनी का राउंड लगाने गया तो कुछ देर बाद वापस आकर देखा तो मोबाइल खाट पर नहीं था। आसपास तलाश करने पर नहीं मिला। कोई अज्ञात बदमाश मोबाइल चुरा कर ले गया। जिस पर थाना कोतवाली में चोरी का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

घटना का खुलासा —
उक्त लूट की वारदात को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक झाबुआ अगम जैन द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक प्रेमलाल कुर्वे के नेतृत्व में पुलिस टीमों का गठन कर उक्त घटनाओं का खुलासा करने की जिम्मेदारी दी गई।
जिस पर थाना कोतवाली की पुलिस टीम द्वारा अपने विश्वसनीय मुखबीरो को लगाया गया कि इस तरह की वारदात कौन करता है। जिस पर जानकारी प्राप्त हुई कि आरोपी रणजीत अपने साथियों के साथ मिलकर मोटर सायकल से आते है और रास्ते में जो कोई भी मोबाइल से बात करता है तो उसके मोबाइल को लूट कर भाग जाते है। उक्त जानकारी पूख्ता होने पर आरोपी रणजीत रावत एवं उसके साथी रोहित भूरिया व पंकज चमका को पुलिस गिरफ्त में लिया गया। थाने लाकर पुछताछ करने पर उनके द्वारा उक्त वारदातों को करना कबूल किया। आरोपियों की निशादेही पर 09 मोबाइल एवं एक याम्हा कंपनी की मोटर सायकल को जप्त किया गया।

आरोपियों से जप्त सामग्री :-
1. Redmi 47 कंपनी का मोबाइल किमती 8,000/-रू.
2. एक सेमसंग मोबाइल किमती 15,000/-रू.
3. एक Real Me कंपनी का मोबाइल किमती 15,000/-रू.
4. INFENX HOT 10 कंपनी का मोबाईल किमती 11,000/-रू.
5. एक एप्पल I Phone का मोबाईल किमती 50,000/-रू.
6. एक सेमसंग मोबाइल किमती 20,000/-रू.
7. एक OPPO कंपनी का मोबाइल किमती 10,000/-रू.
8. एक Itel कंपनी का मोबाइल किमती 5,500/-रू.
9. एक Real me कंपनी का मोबाइल किमती 12,000/-रू.
10. एक याम्हा कंपनी की मो.सा. बिना नंबंर की किमती 2,00,000/-रू.
कुल किमती जप्त मश्रुका 3,46,500/-रू.

आपराधिक रिकार्ड
आरोपी रणजीत पिता मगन रावत उम्र 19 वर्ष निवासी ग्राम कंधा थाना जोबट जिला अलीराजपुर के विरूद्ध थाना जोबट जिला अलीराजपुर में अपराध क्रं. 583/2021 धारा 294,323,506 भादवि का अपराध पंजीबद्ध है।

आरोपियों के नाम :-
1. रोहित पिता अशोक भूरिया उम्र 19 वर्ष निवासी कस्बा जोबट तालाब फलिया जिला अलीराजपुर (गिरफ्तार)
2. रणजीत पिता मगन रावत उम्र 19 वर्ष निवासी ग्राम कंधा थाना जोबट जिला अलीराजपुर (गिरफ्तार)
3. पंकज पिता जोगडा चमका उम्र 19 वर्ष निवासी कंधा जिला अलीराजपुर (गिरफ्तार)

सराहनीय कार्य में योगदान :-
संपूर्ण घटना का खुलासा करने में थाना प्रभारी कोतवाली निरी. सुरेन्द्र सिंह गाडरिया, उनि भारतसिंह नायक, उनि संतोष वसुनिया, प्रआर. 152 रमेश मिनावा, आर.30 गमतु, आर. जितेन्द्र, आर. रतन एवं आर. 98 मंगलेश पाटीदार, आर. 552 महेश प्रजापति, आर. 573 संदीप बघेल का सराहनीय योगदान रहा। आर. 30 गमतु का विशेष योगदान रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here