सामुदायिक स्वास्थ केंद्र के हाल है बेहाल चौकीदार नहीं होने से हॉस्पिटल मै घूम रहे कुत्ते  कलेक्टर साहब कभी भी नवजात शिशु के साथ हो सकता हादसा? मरीजों व उनके परिजन कुत्तों के डर से रहते हैं आशंकित, जिम्मेदारों की उदासीनता का हैं नतीजा

788

सामुदायिक स्वास्थ केंद्र के हाल है बेहाल चौकीदार नहीं होने से हॉस्पिटल मै घूम रहे कुत्ते 

कलेक्टर साहब कभी भी नवजात शिशु के साथ हो सकता हादसा?

मरीजों व उनके परिजन कुत्तों के डर से रहते हैं आशंकित, जिम्मेदारों की उदासीनता का हैं नतीजा

वॉइस ऑफ झाबुआ कल्याणपुरा ओमप्रकाश 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कल्याणपुरा में कई बार ऐसे दृश्य सामने आते हैं, जो पूरे सिस्टम को सवालों के घेरे में खड़ा कर देता है। पहले भी ऐसा नजारा देखने को मिला है। और आज रूम की अलमारी मै कुत्ता कर रहा था आराम कर रहा कर्मचारी अपनी ड्यूटी पर अपनी मर्जी के समय आते है । बीएमओ साहब भी की भी रोकने टोकने की हिम्मत नही तभी रूम की अलमारी खुली छोड़ कर्मचारी अपनी मस्ती मै मस्त रहते है जिसका नतीजा आवारा कुत्ते अलमारी मै घुस करते है आराम । इन आवारा कुत्तों के जनरल वार्ड और ड्रेसिंग रूम में आ जाने से मरीज से लेकर उनके परिजन तक परेशान रहते है। खास कर रात के वक्त। उनके काटने व नवजात बच्चे के साथ किसी अनहोनी का डर मरीजों के मन मे हमेशा रहता है। गौरतलब रहे कि अस्पताल में आए दिन प्रसव, परिवार नियोजन के ऑपरेशन होता है। कर्मियों की लापरवाही के कारण ऐसे में अस्पताल परिसर में कुत्ते का होना सही नहीं है। कुत्ते के साथ कई तरह का संक्रमण हो सकता है, जो नवजातों के लिए घातक हो सकता है। वही प्रसव के लिए अस्पताल पहुंचे मरीज व उनके परिजनों ने बताया कि रात में कुत्ते भौंकने से भय लगता है की कही किसी का काट न ले। उन्हें इस बात की चिन्ता रहती है। अस्पताल प्रशासन को आवारा कुत्तों पर रोक लगानी चाहिए।

सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मै किस तरह फेकी हुई पड़ी गोलिया

सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मै स्वास्थ विभाग की लापरवाही सामने आई है। गरीबों के लिये आने वाली सरकारी दवाओं की बर्बादी कैसे होती है आप ही देखिये , यहां अस्पताल के पास बने मेडिकल स्टोर में गोलिया कूड़े की तरह फेकी हुई पड़ी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here