15 नवम्बर को पेटलावद में मनाया जाएगा जनजाति गौरव दिवस

325

 

 

स्थानीय गायत्री मंदिर पर जनजाति विकास मंच की तहसील स्तरीय प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। आगामी 15 नवंबर को धरती आबा क्रांतिसूर्य भगवान बिरसा मुंडा की जन्म जयंती है।इस उपलक्ष्य मैं प्रदेश और देश भर में जनजाति गौरव दिवस मनाया जा रहा है इसी तारतम्य में पेटलावद में भी आगामी 15 नवंबर को काॅलेज मैदान पेटलावद में जनजाति गौरव दिवस धूमधाम से मनाया जाएगा।बैठक में खंड संयोजक सूरसिंह मीणा ने भगवान बिरसा मुंडा के जीवन पर अपना वक्तव्य रखा और कहा कि भगवान बिरसा मुंडा ने देश धर्म और समाज के लिए अंग्रेजों के खिलाफ जो लड़ाई लड़ी है।उसे समाज के हर तबके तक उनका जो शौर्य था वह पहुंचाना है और भगवान बिरसा मुंडा के रास्ते पर समाज और आने वाली युवा पीढ़ी चले इस उद्देश्य से हमको जनजाति गौरव दिवस मनाना है और अधिक से अधिक समाज के युवा वर्ग बड़े बुजुर्ग माता बहने उपस्थित हो ऐसा सुनिश्चित करवाना है।तत्पश्चात सामाजिक कार्यकर्ता जगदीश निनामा ने अपने वक्तव्य रखें और कहा कि वर्तमान की जो युवा पीढ़ी है उन्हें यह बताने की जरूरत है कि हमारे महापुरुष की विचारधारा और उनका जो शौर्य था वह अद्वितीय है।भगवान बिरसा मुंडा जैसे महापुरुषों के रास्ते पर हम चल कर समाज को समर्थ, सशक्त और सक्षम बना सकते हैं।जनजाति विकास मंच सह संयोजक संजय मखोड,कोमल निनामा, सुरेश अरड, कालूसिंह निनामा, दशरथ मेडा, मांगूसिंह कटारा, लालसिंह सोलंकी,अमरसिंह डामर आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे एवं समाज जन अधिक से अधिक उपस्थित होकर जनजाति गौरव दिवस को धूमधाम से मनाएं ऐसा संकल्प लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here