कार्यकर्ताओं के परिश्रम और समर्पण से भाजपा विश्व का सबसे बड़ा दल बना: हितानंद

20

भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता आधारित दल है। आज भारतीय जनता पार्टी विश्व का सबसे बडा राजनैतिक दल बना है तो इसके पीछे करोड़ों कार्यकर्ताओं का परिश्रम, समर्पण और हमारे दल की कार्यपद्धति है। हमारी पहचान वैचारिक संगठन के रूप में होती है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद ने शनिवार को सिवनी में आयोजित युवा मोर्चा के प्रशिक्षण वर्ग में ‘हमारी कार्यपद्धति और संगठनात्मक संरचना में इसका महत्व’ विषय पर संबोधित करते हुए कही।
हितानंद ने कहा कि कार्यपद्धति किसी भी संगठन की आत्मा होती है। सुस्पष्ट और निश्चित कार्य पद्धति के अभाव में कोई भी संगठन असंगठित और निर्जीव रहता है। भारतीय जनता पार्टी की एक निश्चित और संयोजित कार्यपद्धति है, जो हमारे संगठन को अन्य संगठनों से श्रेष्ठ और मजबूत बनाती है। हमारी कार्यपद्धति में अनुशासन, परस्परता, संपर्क, संवाद और प्रवास के साथ ही कार्यालय, बैठकें और दल का संविधान सम्मिलित है, जिसके अनुरूप हम उस पद्धति पर कार्य करते है। हमारा संगठन सर्वस्पर्शी, सर्वव्यापी और सर्वग्राही है। हम परिवार भाव से मिलकर काम करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रवास संगठन के प्राण है। जो जितना अधिक प्रवास करेगा वह कार्यकर्ता उतना ही परिष्कृत होगा। पार्टी को और गतिशील बनाने के लिए प्रवास का बहुत महत्व है। उन्होंने पदाधिकारियों सेे कार्ययोजना बनाकर जिले में अलग-अलग क्षेत्रों का प्रवास करने की बात कही।
प्रदेश संगठन महामंत्री ने कहा कि वर्तमान में हम एक वैचारिक लडाई लड रहें है। एक तरफ राष्ट्र के हित में सोचने वाले लोग है वहीं दूसरी ओर समाज में वैमनस्यता फैलाने वाले लोग है। हमें हर क्षेत्र में इन लोगों से सर्तक और सावधान रहकर कार्य करना है। उन्होंने कहा कि सबसे अधिक युवा सोशल मीडिया पर अपने विचारों का आदान प्रदान करते है। देश विरोधी ताकतें भ्रामक जानकारियां फैलाकर युवाओं को भ्रमित करने का कार्य करती है। युवा मोर्चा वैचारिक युवाओं को जोडे जो सोशल मीडिया पर सक्रिय हो। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की प्रशिक्षण वर्ग आयोजित करती है। प्रशिक्षण, प्रतिक्षण सीखेन की प्रक्रिया है। प्रशिक्षण से कार्यकर्ताओं की योग्यता में वृद्धि होती है और कार्यक्षमता का विकास होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here