भाजपा ने लौटाया जनजातीय संस्कृति का गौरव, क्रांतिवीरों को दिया सम्मान: विष्णुदत्त शर्मा

43

भारतीय जनता पार्टी एकमात्र ऐसा राजनीतिक दल है जिसने जनजातीय संस्कृति के गौरव को लौटाया है। देश की आजादी के लिए संघर्ष करने वाले जनजातीय क्रांतिवीरों को उचित सम्मान दिया है। हमें जनजातीय समाज के हर घर तक इस बात को पहुंचाना होगा। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने शनिवार को झाबुआ जिले के थांदला में आयोजित भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रशिक्षण वर्ग एवं प्रदेश कार्यसमिति बैठक का शुभारंभ करते हुए कही।प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने एवं अन्य अतिथियों ने मां भारती, भगवान बिरसा मुंडा एवं पार्टी के प्रेरणा स्त्रोत पंडित दीनदयाल उपाध्याय, डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के चित्र पर माल्यार्पण कर तथा दीप प्रज्वलित कर प्रशिक्षण वर्ग एवं प्रदेश कार्यसमिति बैठक का शुभारंभ किया। अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कलसिंह भाबर ने पारंपरिक बंडी एवं तीर कमान भेंटकर प्रदेश अध्यक्ष का स्वागत किया। प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने जनजातीय क्रांतिवीरों के जीवन पर केंद्रित प्रदर्शनी का शुभारंभ भी किया। इस दौरान पार्टी के राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे, मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री एवं सांसद गजेन्द्र सिंह पटेल, मोर्चा प्रदेश सह-प्रभारी श्रीमती विद्या सिदार, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष नागर सिंह चौहान, प्रदेश महामंत्री भगवानदास सबनानी व हरिशंकर खटीक, प्रदेश मंत्री श्रीमती संगीता सोनी, जयदीप पटेल, मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष कलसिंह भाबर, सांसद गुमान सिंह डामोर, मोर्चा प्रदेश महामंत्री मुकाम सिंह रावत व पंकज टेकाम सहित अन्य पदाधिकारी मंचासीन थे।

प्रशिक्षण के माध्यम से अंत्योदय को बूथ स्तर तक पहुंचाएं

प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने उद्घाटन सत्र में संबोधित करते हुए प्रशिक्षण की महत्ता को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि यहां जो प्रशिक्षण दिया जाएगा, उसके माध्यम से जनजातीय क्षेत्रों में पं. दीनदयाल उपाध्याय जी द्वारा प्रतिपादित अंत्योदय और भाजपा की विकासपरक सोच को बूथ स्तर तक ले जाना कार्यकर्ताओं के लिए आसान होगा।शर्मा ने कहा कि जनजातीय समाज की खुशहाली और विकास के लिए भारतीय जनता पार्टी की केंद्र व राज्य सरकारों ने अनेक योजनाएं लागू की हैं। जनजातीय बहुल गांवों में इन योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए भी टीम गठित की जाए। को आदिवासी बहुल गांवों में सरकार द्वारा जनजातीय वर्ग के लिए चलाई जा रहीं योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए भी टीम तैयार की जाए।

सोशल मीडिया में सक्रिय युवाओं को पार्टी से जोड़ें

शर्मा ने कहा कि जनजातीय समाज के युवाओं की सक्रियता सोशल मीडिया पर बढ़ी है। इसलिए विरोधी दलों द्वारा किए जा रहे दुष्प्रचार और भ्रम को खत्म करने के लिए जनजातीय समाज के ऐसे युवाओं को पार्टी से जोड़ें, जो शिक्षित हों और सोशल मीडिया पर सक्रिय भी हों।शर्मा ने कहा कि समाज के पढ़े-लिखे, शिक्षित युवाओं को केन्द्र और राज्य सरकार की रोजगार और स्वरोजगार वाली योजनाओं से लाभान्वित कराने के लिए अनुसूचित जनजाति मोर्चा प्रदेश स्तर पर अभियान चलाए। पार्टी स्तर पर एसटी मोर्चा अभियान चलाएगा। इन्हीं शिक्षित युवाओं का उपयोग सरकार की योजनाओं के प्रति जनजातीय समाज में जागरूकता के लिए भी किया जाए।

वक्ताओं ने दिया विषयों पर उद्बोधन

प्रशिक्षण सत्र के दौरान रूपसिंह नागर द्वारा ‘परिवार’ विषय पर प्रतिपादन किया गया। ‘संस्कृति एवं परंपराएं’ विषय पर प्रदेश अध्यक्ष  कलसिंह भाबर ने प्रकाश डाला।मोहन गिरी द्वारा ‘भारत में जनजातीय वीरों का इतिहास’ विषय पर विस्तार से उद्बोधन दिया गया। वर्ग के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति भी दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here