4585

 

जिंहा हम बात कर रहे है दिबाली के बाद मनाए जाने पर्व गाय गोहरी के दिन की उस दिन पेटलावद शहर में त्योहार के कारण आस पास के लोगो का काफी आना जाना था इसी के तहत आदिवासी समाज की कुछ युवतियां मैंने रोड से गुजर रही थी तभी उनके ऊपर कुछ शरारती तत्वों ने रस्सी बम फेक दिया जिस कारण लडकिया डर सी गई ओर घबरा भी गई …..उक्त वीडीओ सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है

एक तरफ प्रदेश के मुखिया महिलाओं की सुरक्षा के लिए बात करते है वही पेटलावद शहर में राह चलती लड़कियों पर सरेआम जलता हुआ रस्सी बम फेकना कहा तक उचित है …..इसी घटना में महिलाएं जल सकती थी उन्हें नुकसान हो सकता था आखिर इस तरह की घटनाएं कहा तक उचित है ….एसपी साहब उम्मीद है कि इन शरारती तत्वों पर लगाम लगेगी…?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here